पोरबंदर में घूमने के लिए प्रमुख आकर्षण स्थल की जानकारी – Porbandar Tourism In Hindi

Porbandar In Hindi, पोरबंदर पर्यटन स्थल भारत के गुजरात राज्य में स्थित हैं जो अपने आकर्षित पर्यटन स्थलों के साथ साथ राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी की जन्म भूमि के रूप में भी जाना जाता हैं। पोरबंदर आने वाले पर्यटकों को यहाँ कई दर्शनीय मंदिर, बांध, वन्यजीव अभ्यारण, सुंदर समुद्र तट, ऐतिहासिक महल आदि देखने को मिलेंगे। पोरबंदर के समुद्री बीच पर घूमते हुए पक्षी और भव्य त्योहारों का रंगारंग कार्यक्रम पर्यटकों के मन को मोह लेता हैं। गुजरात राज्य की संस्कृति को उजागर करते हुए पोरबंदर पर्यटन स्थल अपने यहा आने वाले सैलानियों की महमान नवाजी शानदार ढंग से करता हैं।

यदि आप पोरबंदर के प्रमुख पर्यटन स्थलों के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े –

Table of Contents

पोरबंदर का इतिहास – Porbandar History In Hindi

Porbandar History In Hindi

पोरबंदर का इतिहास बहुत पुराना हैं जोकि 16 वीं – 14 वीं शताब्दी ईसा पूर्व का माना जाता हैं। पोरबंदर के इतिहास में हड़प्पा सभ्यता के अवशेष भी सामने आते हैं। सौराष्ट्र तट के आसपास हड़प्पा काल के दौरान की जाने वाली समुद्री गतिविधियों कि जानकारी मिलती हैं। हिन्दू धर्म की पौराणिक कथाओं के अनुसार पोरबंदर भगवान श्री कृष्ण के परम मित्र सुदामा की जन्म भूमि और राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी की भी जन्म स्थली के रूप में जाना जाता हैं।

और पढ़े: अहमदाबाद शहर के आकर्षक स्थलों की जानकारी 

पोरबंदर के टॉप 20 पर्यटन स्थल – Top 20 Tourist Places In Porbandar In Hindi

पोरबंदर पर्यटन स्थल में कई आकर्षित बीच, दर्शनीय मंदिर और ऐतिहासिक महल स्थित हैं। पोरबंदर की यात्रा पर आने वाले पर्यटक इन स्थलों पर घूम कर अपनी यात्रा को ओर अधिक यादगार बना सकते हैं।

पोरबंदर का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल पोरबंदर बीच – Porbandar Ka Prasidh Paryatan Sthal Porbandar Beach In Hindi

Porbandar Ka Prasidh Paryatan Sthal Porbandar Beach In Hindi

पोरबंदर बीच को विलिंगडन मरीना बीच के नाम से भी जाना जाता हैं। बता दें कि यह बीच पोरबंदर समुद्र तट के सबसे आकर्षित स्थानों में से एक हैं। हुज़ूर पैलेस पोरबंदर बीच के निकट एक ऐतिहासिक महल है जोकि पर्यटकों को आकर्षित करता हैं। वेरावल और द्वारका नगरी के बीच स्थित यह समुद्री तट आकर्षित लहरों को देखने, मछली पकड़ने और नौका बिहार के लिए जाना जाता हैं।

पोरबंदर का आकर्षण स्थल पोरबंदर पक्षी अभयारण्य  – Porbandar Ka Aakarshan Sthal Porbandar Bird Sanctuary In Hindi

Porbandar Ka Aakarshan Sthal Porbandar Bird Sanctuary In Hindi

पोरबंदर में घूमने लायक जगह पोरबंदर पक्षी अभ्यारण पर्यटकों के बीच अत्यधिक लोकप्रिय हैं। एक किलोमीटर वर्ग के क्षेत्र में फैले हुए इस अभ्यारण कई प्रवासी पक्षी प्रतिवर्ष दौरा करते हैं। यहाँ मुख रूप से राजहंस, डक एंड गीज़, ग्रीव्स, जैक्स, रफ, कॉट्स, कॉर्मोरेंट्स, पेलिकन, एवोकेट्स, हेरोन्स, एग्रेस, इबिस, स्पूनबिल, रेड शैंक्स, क्रेन, बिटर्न, स्टॉर्क, व्हिस्लेट टील्स, गल्स, टर्न्स, इंडियन रोलर आदि किस्मो के पक्षियों को देखा जा सकता हैं।

पोरबंदर का प्रमुख दर्शनीय स्थल कीर्ति मंदिर – Porbandar Ka Pramukh Darshaniya Sthal Kirti Mandir In Hindi

पोरबंदर का प्रमुख दर्शनीय स्थल कीर्ति मंदिर

पोरबंदर के दर्शनीय स्थलों में से एक कीर्ति मंदिर का निर्माण महात्मा गाँधी और पत्नी कस्तूरबा गाँधी कि याद में बनबाया गया हैं। बता दें कि मंदिर कि निकट महात्मा गाँधी का पैतृक निवास स्थान भी हैं। कीर्ति मंदिर का निर्माण सन 1944 में किया गया था। कीर्ति मंदिर का निर्माण 73 साल पहले किया गया था जहाँ अब बड़ी संख्या में पर्यटक महात्मा गाँधी से जुड़े इतिहास को जानने के लिए आते हैं।

बर्दा हिल्स वन्यजीव अभ्यारण पोरबंदर पर्यटन में घूमने लायक जगह – Barda Hills Wildlife Sanctuary Porbandar Me Ghumne Layak Jagah In Hindi

Barda Hills Wildlife Sanctuary Porbandar Me Ghumne Layak Jagah In Hindi

पोरबंदर का मशहूर बर्दा हिल्स वन्यजीव अभ्यारण पोरबंदर से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। बर्दा हिल्स वन्यजीव अभ्यारण को दो जिलों पोरबंदर और जामनगर में विभाजित किया गया हैं। पहाड़ी क्षेत्र में स्थित यह अभयारण्य कृषि क्षेत्र, बंजर भूमि और जंगल से घिरा हुआ हैं। बर्दा हिल्स वन्यजीव अभ्यारण में पाए जाने वाले जीव जंतुओं में चिंकारा, तितलियां, शेर, गिरगिट, चित्तीदार ईगल, सांभर, मगरमच्छ, तेंदुए, भेड़िया और क्रेस्टेड हॉक-ईगल आदि को देखा जा सकता हैं। इसके अलावा आप वर्दा कि पहाड़ियों में ट्रेकिंग का लुत्फ़ भी उठा सकते हैं।

नेहरू प्लेटिनम पोरबंदर टूरिज्म का आकर्षण स्थल – Nehru Planetarium Porbandar Tourism Ka Aakarshan Sthal In Hindi

Nehru Planetarium Porbandar Tourism Ka Aakarshan Sthal In Hindi

गुजरत राज्य के प्रमुख आकर्षण में शामिल पोरबंदर का नेहरू प्लेटिनम पर्यटकों को सहज ही अपनी ओर आकर्षित करता हैं। बता दें कि नेहरू प्लेटिनम कि स्थापना 3 मार्च 1977 को तत्कालीन प्रधान मंत्री श्री जवाहर लाल नेहरू द्वारा की गई थी जोकि महात्मा गांधी द्वारा चलाए गए असहयोग आन्दोलन को समर्पित हैं।

और पढ़े: रन ऑफ कच्छ की सैर और कच्छ के दर्शनीय स्थल 

पोरबंदर में देखने लायक शानदार जगह मियानी बीच – Porbandar Mein Dekhne Layak Shaandar Jagah Miyani Beach In Hindi

Porbandar Mein Dekhne Layak Shaandar Jagah Miyani Beach In Hindi

पोरबंदर में घूमने वाली शानदार जगहों में शामिल मियानी बीच पोरबंदर से लगभग 36 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। बीच पर आप पानी से सम्बंधित गतिविधियों के अलावा सुदामा मंदिर, कीर्ति मंदिर, हरसिद्धि मंदिर और ब्रह्मा मंदिर आदि आकर्षण भी देख सकते हैं।

भारत मंदिर पोरबंदर का लोकप्रिय धार्मिक स्थल – Bharat Mandir Porbandar Ke Dharmik Sthal In Hindi

Bharat Mandir Porbandar Ke Dharmik Sthal In Hindi

पोरबंदर के धार्मिक स्थलों में शामिल भारत मंदिर पोरबंदर शहर से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। भारत मंदिर भारतीय परंपराओं, आकर्षित मूर्तियों, चित्रों और सुन्दर कलाकृतियों को प्रदर्शित करता है। हिन्दू पौराणिक कथाओं के नायको से संबधित देवताओं कि प्रतिमा के साथ भारत मंदिर एक बगीचे में नेहरू तारामंडल के सामने स्थित हैं।

श्री हरि मंदिर पोरबंदर का प्रसिद्ध मंदिर – Sri Hari Mandir Porbandar Ka Prasidh Mandir In Hindi

Sri Hari Mandir Porbandar Ka Prasidh Mandir In Hindi
Image Credit: Bhimaraya Hugar

श्री हरि मंदिर पोरबंदर के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक हैं जोकि यहाँ के प्रमुख आकर्षण में शामिल हैं। श्री हरी मंदिर ऋषिकुल के छात्रों वैदिक शिक्षा और व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान करता हैं। बता दें कि गुरुकुल होने के अलावा यह अपने राधा कृष्ण, श्री लक्ष्मी नारायण, करुणामयी देवी, भगवान गणेश और हिन्दू धर्म से संबधित अन्य देवताओं के मंदिरों के लिए भी प्रसिद्ध हैं।

भूतनाथ महादेव मंदिर पोरबंदर का लोकप्रिय मंदिर – Bhutnath Mahadev Temple Porbandar Ke Lokpriya Mandir In Hindi

Bhutnath Mahadev Temple Porbandar Ke Lokpriya Mandir In Hindi
Image Credit: Dhyey Shiyal

पोरबंदर का तीर्थ स्थल भूतनाथ महादेव मंदिर पोरबंदर आने वालो भक्तो की आस्था केंद्र बना हुआ हैं। यह मंदिर एक शांत और छोटी जगह पर स्थित हैं। भगवान शिव के भूतनाथ स्वरुप को समर्पित यह मंदिर लिंगम के लिए प्रसिद्ध है। भूतनाथ महादेव मंदिर में शिवरात्रि के अवसर पर पर्यटकों की भीड़ देखने लायक होती हैं।

कृष्ण सुदामा मंदिर पोरबंदर का दर्शनीय स्थल – Krishna Sudama Mandir Porbandar Ka Darshaniya Sthal In Hindi

Krishna Sudama Mandir Porbandar Ka Darshaniya Sthal In Hindi

पोरबंदर का दार्शनिक कृष्ण सुदामा मंदिर भगवान श्री कृष्ण और उनके बाल सखा सुदामा जी को समर्पित हैं। मंदिर का निर्माण 1902 और 1907 के दौरान जेठवा राजवंश के श्री राम देवजी जेठवा ने करबाया था। सफेद पत्थर से बना यह आकर्षित मंदिर पर्यटकों को अपनी ओर खीचता हैं।

और पढ़े: चंपानेर-पावागढ़ स्थल घूमने की जानकारी और इसके पर्यटन स्थल

घुमली पोरबंदर का ऐतिहासिक स्थल – Ghumli Porbandar Ka Aetihasik Sthal In Hindi

घुमली पोरबंदर का ऐतिहासिक स्थल

पोरबंदर का आकर्षण घुमली 12वीं-13वीं शताब्दी के दौरान सैंधव और फिर सौराष्ट्र के जेठवा राजवंश की राजधानी के रूप में जानी जाती थी। बता दें की घुमली वर्तमान में एक महत्वपूर्ण और संरक्षित पुरातात्विक स्थल बन चुका है। घुमली में कई आकर्षित मंदिर, ऐतिहासिक द्वार और राजवंशों द्वारा प्राचीन काल में निर्मित की गई खूबसूरत संरचनाएँ देखने को मिलती हैं। घुमली का नवलखा मंदिर और आशापुरा मंदिर पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं।

पोरबंदर में पिकनिक की अच्छी जगह चौपाटी बीच – Porbandar Picnic Spot Chowpatty Beach In Hindi

पोरबंदर में पिकनिक की अच्छी जगह चौपाटी बीच
Image Credit: Kaveri Karmakar

पोरबंदर में घूमने वाली जगह चौपाटी बीच अपनी आकर्षित रेतीले मैदानों में पर्यटकों को मस्ती करने के लिए आमंत्रित करते हैं। इसके अलावा आप बीच पर टहलने के लिए जा सकते हैं और बीच पर बैठकर समुद्र के नीले पानी में होने वाली हलचल को महसूस कर सकते हैं। अरब सागर के समुद्री तट पर फास्ट फूड और कुछ खास पेय पदार्थो का आनंद ले सकते हैं। चौपाटी बीच पर राजहंस, सीगल और अन्य समुद्री पक्षी पूरा दिन समुद्री तट के निकट घूमते हुए नजर आएंगे।

हुज़ूर पैलेस पोरबंदर में घूमने के लिए प्राचीन जगह – Huzoor Palace Porbandar Mein Ghumne Ke Liye Prachin Jagah In Hindi

Huzoor Palace Porbandar Mein Ghumne Ke Liye Prachin Jagah In Hindi
Image Credit: Praveen Raj

पोरबंदर का ऐतिहासिक हुज़ूर पैलेस 20 वीं शताब्दी दौरान कि एक आकर्षित नवशास्त्रीय संरचना हैं। हुजूर पैलेस कि संरचना को देखने के लिए पर्यटक दूर दूर से आते हैं। हुजूर पैलेस की संरचना में सजावटी स्तंभों, पोर्टिको,  खूबसूरत फव्वारे, उद्यान और समुद्र किनारे पर होने कि वजह से एक दिलकश नजारा आदि शामिल हैं। बता दें कि नवरात्री के अवसर पर यहाँ भीड़ देखने लायक होती हैं।

पोरबंदर का धार्मिक स्थल बिलेश्वर शिव मंदिर – Porbandar Ka Dharmik Sthal Bileshwar Shiva Temple In Hindi

पोरबंदर का धार्मिक स्थल बिलेश्वर शिव मंदिर
Image Credit: Varun Kawali

पोरबंदर के धार्मिक स्थलों में से एक बिलेश्वर शिव मंदिर रब्रिस और चरण के पडोसी समुदाओ के लिए पूजनीय स्थल है। शिवरात्रि के अवसर पर बिलेश्वर शिव मंदिर में भक्तो की भीड़ उमड़ जाती हैं। बिलेश्वर शिव मंदिर भगवान शिव और श्री कृष्ण कि भक्ति के लिए जाना जाता हैं।

खिमेश्वर मंदिर पोरबंदर पर्यटन में लोकप्रिय मंदिर – Khimeshwar Temple Porbandar Paryatan Ke Lokpriya Mandir In Hindi

खिमेश्वर मंदिर पोरबंदर पर्यटन में लोकप्रिय मंदिर
Image Credit: Amit Joshi

पोरबंदर के कुचडी गांव में खिमेश्वर मंदिर स्थित हैं जोकि भगवान शिव को समर्पित है। इसके अलावा पांडवो के निवास स्थान के रूप में भी इसे जाना जाता हैं। बता दें कि जून-जुलाई के महीने में यह मेले का आयोजन किया जाता हैं।

रामधुन मंदिर पोरबंदर का तीर्थ स्थल – Ramdhun Mandir Porbandar Ka Tirth Sthal In Hindi

रामधुन मंदिर पोरबंदर का तीर्थ स्थल
Image Credit: Bhavin Naik

पोरबंदर का तीर्थ स्थल रामधुन मंदिर भगवान श्री राम चन्द्र जी को समर्पित हैं। मंदिर भगवान राम के अतिरिक्त देवी सीता, लक्ष्मण और हनुमान जी की मूर्ती स्थापित हैं। मंदिर का निर्माण लगभग 5 दशक पहले भिक्षुजी महाराज ने करबाया था। मंदिर में चलने वाली मधुर राम धुन के कारण मंदिर का नाम रामधुन मंदिर रखा गया है।

और पढ़े: वडोदरा के पर्यटन स्थल

जदेश्वर मंदिर पोरबंदर में घूमने के लिए ऐतिहासिक मंदिर – Jadeshwar Temple Porbandar Ghumne Layak Aetihasik Mandir In Hindi

Jadeshwar Temple Porbandar Ghumne Layak Aetihasik Mandir In Hindi
Image Credit: Jayesh Acharya

पोरबंदर पर्यटन में शामिल जदेश्वर मंदिर शहर के ऐतिहासिक शिव मंदिरों में से एक है। जदेश्वर मंदिर भगवान शिव का कोई भी लिंगम स्थित नही हैं बल्कि यहाँ भगवान शिव कि प्रतिमा को स्थापित किया गया हैं। यह स्थान शांत और शिव भक्ति के लिए विशेष माना जाता हैं।

रोकडिया हनुमान मंदिर पोरबंदर का मशहूर मंदिर – Rokadia Hanuman Mandir Porbandar Famous Temple In Hindi

Rokadia Hanuman Mandir Porbandar Famous Temple In Hindi
Image Credit: Jatin Makwana

पोरबंदर का मशहूर रोकडिया हनुमान मंदिर भक्तो कि आस्था का प्रमुख केंद्र हैं। गंधमादन पर्वत पर स्थित हनुमान जी महाराज को समर्पित इस मंदिर में भगवान राम, देवी सीता और लक्ष्मण जी कि मूर्तियों सहित शनि देव कि मूर्ती भी स्थापित हैं।

सत्यनारायण मंदिर पोरबंदर का धार्मिक स्थान – Satyanarayan Mandir Porbandar Ka Dharmik Sthal  In Hindi

Satyanarayan Mandir Porbandar Ka Dharmik Sthal  In Hindi
Image Credit: Rakesh Fulvanda

पोरबंदर की धार्मिक भूमि पर स्थित भगवान विष्णु का सत्यनारायण मंदिर भक्तो की आस्था का केंद्र बना हुआ हैं। भगवान विष्णु और श्री कृष्ण की पूजा अर्चना करने के लिए मंदिर में आने वाले भक्तो की भीड़ लगी रहती हैं। श्री हरी नारायण के गीतों की धुन मंदिर में निरंतर चलते रहती हैं।

पोरबंदर का आकर्षण स्थल सार्तनजी चोरो पोरबंदर – Porbandar Ka Aakarshan Sthal Sartanji Choro In Hindi

पोरबंदर का ऐतिहासिक सार्तनजी चोरो एक प्रमुख आकर्षण हैं जोकि पर्यटकों को आकर्षित करता हैं। बता दें कि सार्तनजी चोरो राणा सर्तनजी का मंडप हुआ करता था और स्थान पर वह विश्राम करना पसंद करते थे।

पोरबंदर टूरिस्ट प्लेस रानी बाग पार्क – Porbandar Tourist Place Rani Baug Park In Hindi

रानीबाग पार्क पोरबंदर पर्यटन स्थल के ठीक सामने स्थित है और इस पार्क को शहर के प्रदूषण को दूर करने के लिए जाना जाता हैं जोकि एक प्राकृतिक और शुद्ध हवा शहरवासियों को प्रदान करता हैं। यह पार्क 50 एकड़ से भी अधिक क्षेत्र में फैला हुआ है जोकि 840 से भी अधिक प्रजातियों के पौधों को संरक्षित करके रखता हैं।

पोरबंदर का पर्यटन स्थल दरिया राजमहल  – Porbandar Ka Paryatan Sthal Daria Rajmahal In Hindi

पोरबंदर में स्थित इस ऐतिहासिक दरिया राजमहल का निर्माण महाराजा भवसिंहजी ने 19 वीं शताब्दी के दौरान करबाया था। महल की वास्तुकला गोथिक, इतालवी और अरबी शैली का खबसूरत संयोजन देखने को मिलता हैं। राज महल में पुराने यूरोपीय फर्नीचर, आकर्षित पेंटिंग और कलाकृतिया आदि देखने को मिलती हैं। हालाकि वर्तमान समय में महल को कॉलेज के रूप में परिवर्तित कर दिया गया है।

पोरबंदर का ऐतिहासिक स्थल दरबारगढ़ – Darbargadh Historical Place To Visit In Porbandar In Hindi

पोरबंदर का ऐतिहासिक दरबारगढ़ एक शाही किला है जोकि राणा सरतनजी के शासन काल में निर्मित किया गया था। बता दें कि महल कि पूरी संरचना में राजपूत शैली कि झलक देखी जा सकती हैं।

और पढ़े: रानी की वाव घूमने की जानकारी और इसके आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थल 

पोरबंदर घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Porbandar In Hindi

Best Time To Visit Porbandar In Hindi

पोरबंदर पर्यटन स्थल की जलवायु आम तौर पर सुखद होती है लेकिन मार्च से जून के दरमयान दिन का तापमान 42 डिग्री सेंटीग्रेट तक पहुँच जाता हैं। जुलाई माह में मानसून के आने के साथ ही मौसम ठंडा हो जाता हैं। लेकिन सर्दियों के मौसम में (अक्टूबर से फरवरी) तक पोरबंदर पर्यटन स्थल की यात्रा करना सबसे अच्छा माना जाता हैं।

पोरबंदर की यात्रा में कहां रुके – Where To Stay In Porbandar In Hindi

पोरबंदर की यात्रा में कहां रुके

पोरबंदर और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के बाद यदि आप यहाँ किसी अच्छे निवास स्थान की तलाश कर रहे हैं। तो हम आपको बता दें कि पोरबंदर में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल मिल जाएंगे। आप अपनी सुविधा और बजट के अनुसार होटल का चुनाव कर सकते हैं।

  • लॉर्ड्स इन, पोरबंदर (Lords Inn, Porbandar)
  • होटल बालाजी पैलेस (Hotel Balaji Palace)
  • होटल कावेरी इंटरनेशनल (Hotel Kaveri International)
  • होटल कुबेर (Hotel Kuber)
  • होटल इंद्रप्रस्थ (Hotel Indraprasth)

पोरबंदर में खान के लिए प्रसिद्ध स्थानीय भोजन – Porbandar Famous Food In Hindi

पोरबंदर में खान के लिए प्रसिद्ध स्थानीय भोजन

पोरबंदर अपने खूबसूरत पर्यटन स्थलों और आकर्षित वातावरण के लिए तो प्रसिद्ध है ही लेकिन यहाँ का भोजन भी बहुत स्वादिष्ट होता हैं। पोरबंदर के लजीज भोजन का स्वाद आपको उंगलिया चाटने पर मजबूर कर देगा। पोरबंदर में पर्यटकों को गुजराती व्यंजनों के साथ साथ पंजाबी, चीनी और कॉन्टिनेंटल भोजन आदि चखने का अनुभव होगा। पोरबंदर के भोजन में मुख्य रूप से शाकाहारी भोजन देखने को मिलता है। पोरबंदर के कुछ स्थानीय व्यंजनों में ढोकला, खंडवी, थेपला, खाखरा, घेवर, बसुंडी, श्रीखंड के अलावा भी अन्य व्यंजनों को चखा जा सकता हैं।

और पढ़े: अंबाजी मंदिर की जानकारी 

पोरबंदर गुजरात कैसे पंहुचा जाये – How To Reach Porbandar Gujarat In Hindi

पोरबंदर घूमने के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

फ्लाइट से पोरबंदर कैसे पहुचे – How To Reach Porbandar By Flight In Hindi

How To Reach Porbandar By Flight In Hindi

पोरबंदर पर्यटन स्थल की यात्रा के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं। तो हम आपको बता दें कि पोरबंदर हवाई अड्डा (Porbandar Airport) देश के प्रमुख शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। बता दें कि पोरबंदर हवाई अड्डा शहर के केंद्र से लगभग 6 किलोमीटर कि दूरी पर स्थित हैं। हवाई अड्डे से आप यहा चंलने वाले स्थानीय साधनों मदद से शहर में घूम सकते हैं।

ट्रेन से पोरबंदर कैसे जाए – How To Reach Porbandar By Train In Hindi

ट्रेन से पोरबंदर कैसे जाए

पोरबंदर की यात्रा के लिए यदि आपने रेल मार्ग का चुनाव किया हैं। तो हम आपको बता दें कि पोरबंदर रेलवे स्टेशन पोरबंदर शहर को गुजरात और अपने निकट के प्रमुख शहरो के साथ जोड़ता हैं। आप ट्रेन के माध्यम से पोरबंदर की यात्रा पर जा सकते है। बता दें कि राजकोट, सोमनाथ और मुंबई के लिए नियमित ट्रेने आपको मिल जाएगी। इसके अलावा पोरबंदर से दिल्ली, कोलकाता और राजस्थान के लिए भी समय-समय पर ट्रेनें उपलब्ध हैं।

कैसे पहुचे पोरबंदर बस से – How To Reach Porbandar By Bus In Hindi

कैसे पहुचे पोरबंदर बस से

पोरबंदर पर्यटन स्थल कि यात्रा के लिए यदि आपने बस का चुनाव किया हैं। तो बता दें कि पोरबंदर सड़क मार्ग के माध्यम से अपने आसपास के सभी शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। पोरबंदर जाने के लिए बस आपको नियमित रूप से मिल जाएगी।

और पढ़े: गुजरात में घूमने की 17 ऐसी जगह, जहां आपको जरुर जाना चाहिए

इस लेख में आपने पोरबंदर पर्यटन स्थल और उनकी यात्रा के बारे में जाना है आपको हमारा ये लेख केसा लगा हमे कमेंट्स में जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

पोरबंदर गुजरात का नक्शा – Porbandar Gujarat Map

पोरबंदर की फोटो गैलरी – Porbandar Images

और पढ़े:

Leave a Comment