जूनागढ़ के फेमस टूरिस्ट प्लेसेस – Best Tourist Places of Junagadh in Hindi

Best Tourist places of Junagadh in Hindi : जूनागढ़ गुजरात राज्य के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है, जो राज्य का 7 वां सबसे बड़ा शहर भी है। राज्य की रियासती राजधानी होने के नाते जूनागढ़ कई ऐतिहासिक स्मारकों का केंद्र है, जो इतिहास प्रेमियों और पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। जूनागढ़ गिरनार पहाड़ियों और विश्व प्रसिद्ध गिर राष्ट्रीय उद्यान के बेहद करीब स्थित है, जिस कारण यह जगह पर्यटकों के घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें में से एक बन जाती है। यदि आप गुजरात राज्य में घूमने के लिए अच्छी जगहें सर्च कर रहे हैं तो आपको जूनागढ़ कि यात्रा जरुर करना चाहिए। जूनागढ़ भारत की उन जगहों में से एक है, जहाँ आप ऐतिहासिक स्मारकों, मंदिरों, समुद्र तटों, पहाड़ियों सहित अन्य प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों को देख सकते हैं।

वैसे तो जूनागढ़ में घूमने के लिए बहुत सारी जगहें लेकिन हम उन सभी के बारे में बात ना करते हुए, इस आर्टिकल में सिर्फ जूनागढ़ के प्रमुख पर्यटक स्थल और उनकी यात्रा से जुड़ी पूरी जानकारी को डिटेल में जानेगे –

Table of Contents

जूनागढ़ का इतिहास – History of Junagadh in Hindi

जूनागढ़ का इतिहास का इतिहास काफी दिलचस्प है यह मुस्लिम शासक “बाबी नबाब” के राज्य की राजधानी थी, लेकिन बाबी नबाब से पहले जूनागढ़ पर राजवंशों की एक विस्तृत श्रृंखला का शासन था। बाबी नबाब के हाथो में जूनागढ़ की रियासत आने के बाद बाबी वंश के शासको ने 1946 तक इस शहर पर शासन किया।

स्वत्रंता प्राप्ति के बाद 20 फरवरी 1948 को भारत और पाकिस्तान के बीच थोड़े संघर्ष के बाद, जूनागढ़ को भारत में शामिल कर लिया गया और 1960 में, महा गुजरात आंदोलन के परिणामस्वरूप, यह नवगठित गुजरात राज्य का हिस्सा बन गया।

जूनागढ़ में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें – Best Places To Visit In Junagadh In Hindi

महबत मकबरा जूनागढ़ – Mohabbat Maqbara, Junagadh in Hindi

महबत मकबरा जूनागढ़ - Mohabbat Maqbara, Junagadh in Hindi
Image Credit : Nirav Gajjar

महबत मकबरा जूनागढ़ की एक प्रभावशाली मकबरा है, जिसे 1851 और 1882 के बीच बनाया गया था। यह अनूठी संरचना वास्तुकला उत्कृष्टता का एक प्रतीक है, जो इसे जूनागढ़ में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें में से एक बनाती है।

जब भी आप महबत मकबरा घूमने जायेगें तो आप इस मकबरे की सरंचना में यूरोपीय, नियो-गोथिक और इंडो इस्लामिक शैलियों का मिश्रण साफ़ देख सकेगें है। जबकि इसके गुंबद और मीनारें इस्लामी शैली में निर्मित हैं और विशाल स्तंभ गोथिक शैली में बने हैं।

यदि आप घूमने के लिए जूनागढ़ के प्रमुख पर्यटक स्थल (Best Tourist places of Junagadh in Hindi) को सर्च कर रहे है, तो आपको महबत मकबरा घूमने अवश्य जाना चाहिए, जो अपने आकर्षण से हर साल हजारों पर्यटकों और इतिहास प्रेमियों को आकर्षित करता है।

महबत मकबरा की टाइमिंग

  • 24 घंटे

महबत मकबरा की एंट्री फीस

  • फ्री

ऊपरकोट किला जूनागढ़Uperkot Fort Junagadh in Hindi

ऊपरकोट किला जूनागढ़ – Uperkot Fort Junagadh in Hindi
Image Credit : Biswajit Saha

जूनागढ़ के पूर्व में स्थित “ऊपरकोट किला”  जूनागढ़ के सबसे प्राचीन किले में से एक है, जिसे जूनागढ़ में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें (Best Places To Visit In Junagadh In Hindi) में माना जाता है। बता दे ऊपरकोट किला का निर्माण लगभग 2300 साल पहले किया गया था। इस किले के कुछ हिस्से की दीवारे 20 मीटर तक ऊँची है, कहा जाता है उस समय में इन दीवारों के नीचे लगभग 100 फिट गहरी खाई भी हुई करती थी, जिसके अन्दर मगरमच्छों को रखा जाता था क्योंकि इस खाई को किले की सुरक्षा के लिए बनाई गयी थी।

जब भी आप ऊपरकोट किला घूमने जायेंगे तो आप यहाँ गुफायें, बाबड़ी, नीलम और मानेक नामक तोपों को भी देख सकेगें, जिनका निर्माण मिस्र में किये गया था उसके बाद यहाँ लाया गया था।

ऊपरकोट फोर्ट की टाइमिंग

  • सुबह 8.00 बजे से 6.00 बजे तक

ऊपरकोट फोर्ट की एंट्री फीस

  • इंडियन विजिटर्स के लिए : 5 रूपये
  • फ़ॉरन विजिटर्स के लिए : 100 रूपये

गिरनार हिल जूनागढ़ – Girnar Hill Junagadh in Hindi

गिरनार हिल - Girnar Hill Junagadh in Hindi
Image Credit : Lija Sankaliya

शहर से लगभग 30 किमी की दूरी पर स्थित “गिरनार हिल” जूनागढ़ में घूमने के लिए सबसे खूबसूरत और आकर्षक जगह में से एक है। गिरनार हिल को टूरिस्ट स्पॉट के साथ साथ एक धार्मिक स्थल भी माना जाता है, जो हिंदू और जैन तीर्थयात्रियों दोनों के बीच समान महत्व रखता है जहाँ कई धार्मिक स्थलों को देखा जा सकता है। माना जाता है गिरनार हिल एक राजसी पवित्र पर्वत है, जिसकी उत्पत्ति वेदों से हुई है जिसे मोहन-जो-दारो काल के पहले से भी एक धार्मिक स्थल माना जाता आ रहा है।

गिर के जंगल के बीच स्थित गिरनार हिल नेचर लवर्स के लिए स्वर्ग के समान है जो अपने टूरिस्ट्स और तीर्थ यात्रियों को धार्मिक और पूर्व-ऐतिहासिक स्थल के साथ साथ कुछ अच्छे ट्रेकिंग ट्रेल भी प्रदान करता है। यदि आप घूमने के लिए जूनागढ़ के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस (Best Tourist places of Junagadh in Hindi) को सर्च कर रहे है तो आपको गिरनार हिल अवश्य जाना चाहिये।

गिरनार हिल की टाइमिंग

  • सुबह 6.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक

गिरनार हिल की एंट्री फीस

  • नो एंट्री फीस

नवघन कुवो और आदि-कादि वाव जूनागढ़ – Navghan Kuwo And Adi-Kadi Vav Junagadh in Hindi

नवघन कुवो और आदि-कादि वाव - Navghan Kuwo And Adi-Kadi Vav Junagadh in Hindi
Image Credit : Yash Mahant

नवघन कुवो और आदि-कादि वाव दो कुएं या बाबड़ी हैं, जो उरपकोट किले के अंदर स्थित हैं। बता दे इन कुओं और वाव को दूसरे कुओं से अलग बनाने वाली बात यह है, की आमतौर पर कुओं को जमीन में खोदा जाता है, लेकिन यहाँ ऐसा नही है। इन कुओं को जमीन में नही बल्कि चट्टानों पर उकेरा गया है जो उन्हें पेचीदा बनाता है। यही वजह है जो  नवघन कुवो और आदि-कादि वाव को जूनागढ़ में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें (Best Places To Visit In Junagadh In Hindi) में से एक बनाती हैं।

बता दे इस जगह से एक कहानी भी जुड़ी हुई है, जो आदि और कदी नामक दो अविवाहित लड़कियों से जुड़ी है जिनकी बलि इस वाव के निर्माण करते समय दी गयी थी, इसी वजह से इस बाबड़ी को आदि-कादि वाव के नाम से जाना जाता है और लोग आज भी उनके सम्मान एक पेड़ पर चूड़ियाँ और कपड़े चढ़ा कर जाते है।

अशोक के शिलालेख जूनागढ़ – Edicts of Ashoka, Junagadh in Hindi

अशोक के शिलालेख - Edicts of Ashoka, Junagadh in Hindi
Image Credit : Dwiref Vora

अशोक के शिलालेख ( अशोक एडिक्ट्स ) जूनागढ़ में घूमने के लिए सबसे प्रतिष्ठित जगहें में से एक है। इन शिलालेखो को गिरनार जाने वाले रास्ते पर देखा जा सकता है जो विशाल पत्थरों पर उत्‍कीर्ण हैं। अशोक एडिक्ट्स प्राचीन ज्ञान और गुणों का प्रतीक है, जो भारत की नींव बनाते है।

बता अशोक के शिलालेख में 14 शिलालेख है जिन्हें 250 ई.पू. के दौरान लिखा गया था जो एक आधिकारिक प्राधिकरण द्वारा पारित किया गये है। इन शिलालेखों पर शक राजा रुद्रदाम तथा [स्‍कंदगुप्‍त] के खुदवाये अभिलेखों को भी देखा जा सकता है। इसी बजह से यह जगह इतिहास में रूचि रखने वाले पर्यटकों के घूमने के लिए जूनागढ़ के बेस्ट टूरिस्ट्स प्लेसेस में से एक है जो हर साल हजारों पर्यटकों और इतिहास प्रेमियों की मेजबानी करती है।

अशोक के शिलालेख की टाइमिंग

  • सुबह 9.00 बजे से 1.00 बजे तक
  • और 2.00 बजे से शाम 6.00 बजे तक

अशोक के शिलालेख की एंट्री फीस

  • इंडियन टूरिस्ट्स के लिए : 5 रूपये
  • फॉरेनर्स टूरिस्ट्स के लिए :  100 रूपये

और पढ़े: रन ऑफ कच्छ की सैर और कच्छ के दर्शनीय स्थल 

बौद्ध गुफाएं, जूनागढ़ – Buddhist Caves, Junagadh in Hindi

बौद्ध गुफाएं, जूनागढ़ - Buddhist Caves, Junagadh in Hindi
Image Credit : Vadher Mukesh

बौद्ध गुफाएं जूनागढ़ के प्रमुख ऐतिहासिक स्थल में से एक है, जो जूनागढ़ पर्यटन की यात्रा में आने वाले पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। इन गुफाओं का उपयोग बौद्ध भिक्षुओं के मुख्यालय के रूप में किया जाता था। इन बौद्ध गुफाएं में सबसे पुरानी गुफा खपरा कोडिया गुफाएं है जिसे 3-4 शताब्दी ईस्वी में बनाया गया था, जबकि गुफाओं के अधिकांश भाग अशोक के शासनकाल के दौरान बनाए गए थे।

हम आपको बता दे इन गुफाओं को बौद्ध गुफाएं के नाम से अवश्य जाना जाता है लेकिन ये गुफाएं बिलकुल नही है। इनकी बनावट कमरों के जैसी हैं जिन्हें पत्थरों या चट्टानों के अन्दर बनाया गया है और यही अद्वितीय विशेषताएं बौद्ध गुफाएं को जूनागढ़ में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें (Best Places To Visit In Junagadh In Hindi) में शामिल करती है।

बौद्ध गुफाएं की टाइमिंग

  • सुबह 7.00 बजे से 6.00 बजे तक

बौद्ध गुफाएं की एंट्री फीस

  • फ्री

सक्करबाग जूलॉजिकल गार्डन जूनागढ़ – Sakkarbaug Zoological Garden Junagadh in Hindi

सक्करबाग जूलॉजिकल गार्डन – Sakkarbaug Zoological Garden Junagadh in Hindi
Image Credit : Vishal Dhebariya

सक्करबाग जूलॉजिकल गार्डन जूनागढ़ राजकोट राजमार्ग पर स्थित एक विशाल प्राणि उद्यान है, जो एशियाई शेरों के लिए जाना जाता है। सक्करबाग जूलॉजिकल गार्डन को जूनागढ़ चिड़ियाघर के साथ-साथ शक्करबाग चिड़ियाघर या सककारबाग के नाम से भी जाना जाता है, जो बच्चों के साथ घूमने के लिए जूनागढ़ के सबसे लोकप्रिय स्थान में से एक है।

यदि आप अपनी फैमली के साथ घूमने के लिए जूनागढ़ के प्रमुख पर्यटक स्थल (Best Tourist places of Junagadh in Hindi) सर्च कर रहे है, तो आपको जूनागढ़ चिड़ियाघर घूमने अवश्य जाना चाहिये। जब भी आप अपने बच्चो के साथ सक्करबाग जूलॉजिकल गार्डन घूमने जायेंगे तो आप यहाँ एशियाई शेरों के साथ साथ जंगली सूअर, नीले बैल, मृग सहित कई प्रकार के पक्षी और जानवरों को देख सकते है ।

बता दे वन्य जीवो के साथ पार्क में एक प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय और एक पशु चिकित्सालय भी है, जो इस पार्क के आकर्षण में चार चाँद लगाने का कार्य करते है।

जूनागढ़ जू की टाइमिंग

  • सुबह 8.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक

जूनागढ़ जू की एंट्री फीस

  • बच्चो के लिए : 10 रूपये
  • 12 बर्ष से अधिक के पर्यटकों के लिए : 20 रूपये

स्वामी नारायण मंदिर जूनागढ़ – Swami Narayan Mandir Junagadh in Hindi

स्वामी नारायण मंदिर - Swami Narayan Mandir Junagadh in Hindi
Image Credit : Milan Patel

शहर के केंद्र में जवाहर रोड पर स्थित, स्वामी नारायण मंदिर जूनागढ़ के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल में से एक है। यह मंदिर एक श्रद्धालु हिंदू मंदिर है, जो भगवान स्वामीनारायण को समर्पित है, जो एक हिंदू संत, योगी, तपस्वी और स्वामीनारायण संप्रदाय के संस्थापक थे। स्वामी नारायण मंदिर का निर्माण1828 में पूरा हुआ था और तब से यह जूनागढ़ का एक प्रसिद्ध हिंदू मंदिर बना हुआ है।

इस मंदिर में स्वामी नारायण के साथ साथ कई देवताओं की मूर्तियाँ भी स्थापित की गईं है, इसीलिए हर साल हजारों श्रद्धालु श्री स्वामी नारायण के साथ साथ अन्य देवतायों के दर्शन के लिए यहाँ आते है। यदि आप जूनागढ़ के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल (Best Tourist places of Junagadh in Hindi) की यात्रा पर जाने का प्लान बना रहे है, तो आप अपनी यात्रा में स्वामी नारायण समेत बिभिन्न देवतायों का आश्रीबाद लेने के लिए स्वामी नारायण मंदिर जरूर जायें।

स्वामी नारायण मंदिर खुलने का समय

  • प्रातः 7.00 बजे से शाम 8.30

स्वामी नारायण मंदिर का प्रवेश शुल्क

  • प्रवेश नि शुल्क

और पढ़े: सोमनाथ मंदिर का इतिहास और रोचक तथ्य 

दरबार हॉल संग्रहालय जूनागढ़ – Darbar Hall Museum Junagadh in Hindi

दरबार हॉल संग्रहालय जूनागढ़ - Darbar Hall Museum Junagadh in Hindi
Image Credit : Vijay Barot

अगर आप इतिहास के शौकीन है और जूनागढ़ के इतिहास के बारे में जानने के लिए उत्साहित है तो आपको एक बार दरबार हॉल म्यूजियम अवश्य जाना चाहिए। दरबार हॉल संग्रहालय को सभी इतिहास प्रेमियों के लिए जूनागढ़ की सबसे अच्छी जगहें (Best Places To Visit In Junagadh In Hindi) में से एक माना जाता है। इस संग्रहालय में कई कमरे हैं जो 19 वीं शताब्दी के नवाबों की प्राचीन वस्तुओं को प्रदर्शित करते है।

जब भी आप दरबार हॉल म्यूजियम घूमने जायेंगें तो आप यहाँ हथियार कक्ष, रजत कक्ष, लकड़ी के सामान कक्ष, सिक्के कक्ष, कांच और मिट्टी के बर्तनों का कमरा, नवाब चित्रांकन कक्ष, और हावड़ा और पालकी कक्ष देख सकेगें।

दरबार हॉल म्यूजियम की टाइमिंग

  • सुबह 9.00 बजे से 12.00 बजे तक और 3.00 बजे से शाम 5.15 बजे तक

दरबार हॉल म्यूजियम की एंट्री फीस

  • 2 रूपये प्रति व्यक्ति

वेलिंगटन डैम जूनागढ़ – Wellington Dam Junagadh in Hindi

वेलिंगटन डैम जूनागढ़ - Wellington Dam Junagadh in Hindi
Image Credit : Vishal Solanki

गिरनार पर्वत की तलहटी में कलावा नदी के ऊपर बना “वेलिंगटन डैम” जूनागढ़ का एक और आकर्षक पर्यटन स्थल है, जो जूनागढ़ की यात्रा पर आने वाले पर्यटकों की बड़ी संख्या को आकर्षित करता है। यदि आप अपने कपल के साथ जूनागढ़ घूमने जाने वाले है, तो आपको वेलिंगटन डैम जरूर जाना चाहिये क्योंकि यह जगह एक रोमांटिक शाम बिताने के लिए परफेक्ट है। इसीलिए वेलिंगटन डैम को सनसेट देखने के लिए जूनागढ़ की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक माना जाता है।

जब भी आप अपने कपल या फैमली के साथ वेलिंगटन डैम जायेगें तो आप बांध के चारों ओर टहल सकते हैं या बैठ सकते हैं और सनसेट के खुबसूरत दृश्य देख सकते है जो आपकी लाइफ के बेस्ट मुमेंट्स हो सकते है।

वेलिंगटन डैम की टाइमिंग

  • सुबह से लेकर शाम तक

वेलिंगटन डैम की एंट्री फीस

  • फ्री

जटाशंकर महादेव मंदिर जूनागढ़ – Jatashankar Mahadev Mandir Junagadh in Hindi

जटाशंकर महादेव मंदिर जूनागढ़ - Jatashankar Mahadev Mandir Junagadh in Hindi
Image Credit : Vadher Mukesh

जूनागढ़ में गिरनार पर्वत के पीछे की ओर स्थित “जटाशंकर महादेव’ मंदिर एक प्रसिद्ध हिंदू मंदिर है जो भगवान शिव को समर्पित है। बता दे इस मंदिर में एक शिव लिंग स्थापित है, जिसके उपर से एक जल की धारा प्रवाहित हो रही है, यही घटना श्रद्धालुयों और पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनी हुई है जिसे देखने के लिए दूर दूर से लोग आते है।

जब आप जटाशंकर महादेव मंदिर जायेगें तो आप यहाँ भगवान शिव के चमत्कारी शिवलिंग के दर्शन के साथ साथ इस जगह की मंत्र मुग्ध कर देने वाली प्राकृतिक सुन्दरता को भी महसूस कर सकेगें, जो यकीनन आपको कुछ समय के लिए अपने जीवन की सभी परेशानियों और चिंतायों के मुक्त कर देगी।

मोती बाग़ जूनागढ़ – Moti Baug, Junagadh in Hindi

मोती बाग़ - Moti Baug, Junagadh in Hindi
Image Credit : Vishal Solanki

यदि आप अपनी फैमली या दोस्तों के साथ जूनागढ़ के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस (Best Tourist places of Junagadh in Hindi) की ट्रिप पर जाने वाले है, और अपनी ट्रिप के लिए किसी ऐसी जगह को सर्च कर रहे है जहाँ आप अपनी फैमली के साथ प्राकृतिक सुन्दरता के बीच टाइम स्पेंड कर सके, तो इसके लिए “मोती बाग”  बेस्ट ऑप्शन है। मोती बागा जूनागढ़ कृषि विश्वविद्यालय परिसर के अन्दर स्थित है, जो एक तालाब और हरे भरे पेड़ पौधों से घिरा हुआ है।

मोती बाग़ नवाब मुहम्मद महाबत खानजी तृतीय द्वारा एक पालतू कुत्ते की स्मृति में स्थापित किया गया था, जो आज प्रकृति प्रेमियों के घूमने के लिए जूनागढ़ की सबसे अच्छी जगहें में से एक माना जाता है।

मोती बाग की टाइमिंग

  • सुबह 5.00 बजे से शाम 7.00 बजे तक

मोती बाग की एंट्री फीस

  • नो एंट्री फीस

और पढ़े: रानी की वाव घूमने की जानकारी और इसके आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थल 

जामा मस्जिद जूनागढ़ – jama Masjid, Junagadh in Hindi

जूनागढ़ के उपरकोट क्षेत्र में स्थित, “जामा मस्जिद” मुस्लिम समुदाय के लोगो के लिए एक पवित्र स्थल है। जामा मस्जिद का निर्माण सन 1423 में अहमद शाह के शासन में किया गया था। पीले बलुआ पत्थर में निर्मित यह मस्जिद 15 वीं शताब्दी की प्रभावशाली स्थापत्य शैली को दर्शाती है, जिसकी भीतरी दीवारों में जटिल नक्काशी है और केंद्रीय गुंबद को कमल के फूल के आकार में बनाया गया है।

जामा मस्जिद अपनी आकर्षक वास्तुकला के कारण मुस्लिम श्रद्धालुयों के साथ साथ पर्यटकों के लिए भी आकर्षण का केंद्र बनी हुई है, जिस कारण इसे जूनागढ़ के सबसे प्रसिद्ध पर्यटक स्थल (femas Tourist places of Junagadh in Hindi) में भी शामिल किया गया है।

जूनागढ़ के आसपास घूमने के लिए जगहें – Places to visit around Junagadh in Hindi

क्या आप जानते है ? जूनागढ़ अपने पर्यटक स्थल के साथ साथ अपने आसपास स्थित पर्यटन स्थलों के लिए भी काफी फेमस है जो जूनागढ़ की यात्रा पर आने वाले लगभग सभी पर्यटकों को अपनी तरफ अट्रेक्ट करते है। यदि आप भी जूनागढ़ के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस की ट्रिप पर जाने वाले है, तो अपनी यात्रा में नीचे दिए गये इन प्रसिद्ध पर्यटक स्थल की यात्रा के बारे में अवश्य सोचें –

गिर नेशनल पार्क Gir National Park in Hindi

गिर नेशनल पार्क – Gir National Park in Hindi

जूनागढ़ से लगभग 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित “गिर नेशनल पार्क” जूनागढ़ की यात्रा में घूमने के लिए प्रमुख पर्यटक स्थल में से एक है। गिर नेशनल पार्क को भारत के सबसे प्रमुख राष्ट्रीय उद्यानों में से एक माना जाता है, इसीलिए जब भी आप जूनागढ़ की यात्रा पर जायें तो गिर नेशनल पार्क घूमने जरूर जायें। 1965 में स्थापित गिर नेशनल पार्क की स्थापना का प्रमुख कारण एशियाटिक शेरों की सुरक्षा करना था, जिसे सासन गिर नेशनल पार्क के नाम से भी जाना जाता है।

2010 की आधिकारिक गणना अनुसार गिर राष्ट्रीय उद्यान में 411 शेर थे। शेरो के अलावा यहाँ स्तनधारियों,पक्षियों, सरीसृपों और कीड़ों की लगभग 2375 प्रजातियाँ भी पाई जाती हैं। जहाँ पर्यटक मुख्य रूप से तेंदुए, चौसिंगा, चित्तीदार हिरण, लकड़बग्घा, सांभर हिरण और चिंकारा को देख सकते हैं।

गिर नेशनल पार्क की टाइमिंग

  • सुबह 6.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक

गिर नेशनल पार्क की एंट्री फीस 

  • इंडियन टूरिस्ट्स के लिए : 75 रुपये
  • फ़ॉरनर्स टूरिस्ट्स के लिए : 100 रूपये

सरकेश्वर बीच – Sarkeshwar Beach in Hindi

सरकेश्वर बीच – Sarkeshwar Beach in Hindi
Image Credit : Prajna Paul

यदि आप जूनागढ़ ट्रिप के लिए ऐसी जगह को सर्च कर रहे है, जहाँ आप अपनी फैमली के साथ आरामदायक टाइम स्पेंड कर सके या दोस्तों के साथ वाटर स्पोर्ट्स को एन्जॉय कर सकते। तो यकीन माने इसके लिए सरकेश्वर बीच से अच्छी ओर कोई जगह हो ही नही सकती। सरकेश्वर बीच शहर के बाहरी इलाके में सौराष्ट्र के दक्षिणी सिरे पर स्थित है, जो जूनागढ़ शहर के केंद्र से 4 घंटे की ड्राइव पर है। इतनी दूरी के बाबजूद भी यह बीच जूनागढ़ के प्रमुख पर्यटक स्थल की यात्रा में घूमने के लिए सबसे पसंदीदा जगहें में से एक बनी हुई है।

इस समुद्र तट के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यहाँ पर पर्यटकों की जाड्या भीड़ नहीं होती है, इसीलिए आप यहाँ अपनी फैमली के साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड कर सकते है।

जैन मंदिर – Jain Temples in Junagadh in Hindi

जैन मंदिर – Jain Temples in Junagadh in Hindi
Image Credit : KS Rathore

गिरनार क्षेत्र में स्थित जैन मंदिर, जैन मंदिरों का एक समूह है, जिनकी वास्तुकला और शैली एक दूसरे से मिलती जुलती है,जिन्हें 1128 ईस्वी से 1159 ईस्वी तक निर्मित किया गया था। इन जैन मंदिरों का प्रमुख आकर्षण नेमिनाथ मंदिर है, इस मंदिर में स्थापित भगवान नेमिनाथ की मूर्ति लगभग 84,785 साल पुरानी है जिसे भगवान नेमिनाथ की सबसे पुरानी मूर्ति मानी जाती है।

जैन मंदिरों के परिसर में चतुर्भुज आंगन, गलियारे और अन्य तीर्थस्थल हैं, साथ ही जैन तीर्थंकरों की जटिल नक्काशी से सुसज्जित स्तंभ भी हैं। जैन धर्म के लिए प्रमुख तीर्थ स्थल होने कारण हर साल यहाँ बड़ी संख्या में पर्यटक और जैन भिक्षु मोक्ष की प्राप्ति के लिए आते है।

माधवपुर बीच – Madhavpur Beach in Hindi

माधवपुर बीच – Madhavpur Beach in Hindi

भव्य नारियल के पेड़ों और शांत वातावरण से सुसज्जित माधवपुर बीच जूनागढ़ की ट्रिप में घूमने के लिए आकर्षक जगहें में से एक है। समुद्र तट के दूसरी ओर हरे-भरे घास और वनस्पतियाँ हैं, जो इस क्षेत्र को और भी मनोरम बनाती हैं।

माधवपुर बीच अपनी मनमोहनीय सुन्दरता के साथ साथ कछुओं के लिए भी जाना जाता है, जो हजारों कछुओं का घर है, इसीलिए जब भी आप यहाँ आयेगें तो समुद्र तट पर कछुओं को भी देख सकेगें।

ध्यान दे माधवपुर समुद्र तट उच्च ज्वार के कारण तैराकी के लिए आदर्श नहीं माना जाता है, इसीलिए जब भी यहाँ आये तो स्विमिंग करने की कोशिश ना करें।

देवी अंबे का मंदिर – Goddess Ambe Temple in Hindi

देवी अंबे का मंदिर - Goddess Ambe Temple in Hindi
Image Credit : Devang Sumad

देवी अंबे का मंदिर जूनागढ़ के सबसे प्रसिद्ध मंदिर में से एक है, जो गिरनार पहाड़ी के ऊपर बसा है। यह पहाड़ी न केवल प्रकृति प्रेमियों के लिए एक आदर्श जगह है, बल्कि एक ऐसा स्थान भी है, जहां साल भर हजारों तीर्थयात्री आते हैं। देवी अम्बे मां को समर्पित अम्बे माता मंदिर एक प्रतिष्ठित हिंदू मंदिर है, जहाँ श्रद्धालुयों के साथ साथ बड़ी संख्या में नवविवाहित जोड़े माता का आश्रीबाद लेने के लिए आते है। मंदिर नीचे शहर का एक सुरम्य दृश्य भी प्रदान करता है जो पर्यटकों को काफी अट्रेक्ट करता है।

मंदिर खुलने का समय

  • सुबह 7.00 बजे से 4.00 बजे तक और शाम 7.00 बजे से 9.30 बजे तक

और पढ़े : भारत के प्रसिद्ध दुर्गा मंदिर जहाँ जाने से होती है, भक्तो की सभी मनोकामनायें पूर्ण

तुलसीश्याम स्प्रिंग्स – Tulsi Shyam Springs in Hindi

जूनागढ़ की यात्रा में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें में से एक तुलसी श्याम स्प्रिंग्स भगवान विष्णु मंदिर के साथ-साथ तीन गर्म धाराओं का एक समूह है। इनमे प्रत्येक धारा का तापमान अलग-अलग होता है जिनमे पहला गर्म और सुलभ है, दूसरा थोड़ा गर्म है, जबकि तीसरा सबसे जाड्या गर्म है। स्थानीय लोगो और मान्यताओं की माने तो इन कुंड में शक्तियां या उपचारात्मक गुण होते हैं जो त्वचा के रोगों को ठीक कर सकते हैं।

यदि आप जुनागढ़ के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल की यात्रा पर जाने का प्लान बना रहे है, तो आपको अपना कुछ समय निकालकर तुलसीश्याम स्प्रिंग्स भी अवश्य जाना चाहिये जहाँ आप इन कुंड में डुबकी लगाने के साथ साथ इन अद्भुद चमत्कारों को देख सकते है।

अहमदपुर मांडवी बीच – Ahmedpur Mandvi Beach in Hindi

अहमदपुर मांडवी बीच - Ahmedpur Mandvi Beach in Hindi
Image Credit : Dhruv Raval

दीव और गुजरात के जंक्शन पर स्थित अहमदपुर मांडवी बीच जूनागढ़ के आसपास घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें में से एक है। अहमदपुर मांडवी बीच एक 6 किलोमीटर लंबा समुद्र तट है जो इसे वाटर स्पोर्ट्स, स्विमिंग और डॉल्फिन जैसी एक्टिविटीज के लिए परफेक्ट जगह बनाता है। वाटर स्पोर्ट्स एक्टिविटीज के साथ साथ यह बीच नरम रेतीले समुद्र तट और अरब सागर के कुछ आश्चर्यजनक दृश्य प्रदान भी करता है जो पर्यटकों के लिए आकर्षण के केंद्र बने हुआ है।

जब भी आप अहमदपुर मांडवी बीच जायेगें, तो आप यहाँ प्राकृतिक सुन्दरता के बीच टाइम स्पेंड करने के साथ साथ वाटर स्पोर्ट्स एक्टिविटीज में भी पार्टीस्पेट कर सकते है, जो यकीनन आपकी ट्रिप को रोमांचक और मेमोरिबल बना देगी।

जूनागढ़ घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय – Best time to visit Junagadh in Hindi

जूनागढ़ घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय – Best time to visit Junagadh in Hindi

जूनागढ़ की यात्रा के लिए सर्दियों का मौसम (अक्टूबर – मार्च) सबसे अच्छा समय होता है, इस समय का मौसम जूनागढ़ के प्रमुख पर्यटक स्थल की यात्रा के लिए काफी सुखद और अनुकुल होता है। हालाकि पर्यटक मानसून के समय भी जूनागढ़ घूमने जा सकते है लेकिन इस समय कभी कभी भारी बारिश आंधी और भूस्खलन भी देखा जाता है जो आपकी यात्रा को प्रभावित कर सकता है, इसीलिए सबसे अच्छा होगा की आप अक्टूबर – मार्च के महीने में ही जूनागढ़ घूमने जाने का प्लान बनाये।

और पढ़े : गुजरात में घूमने की 17 ऐसी जगह, जहां आपको जरुर जाना चाहिए

जूनागढ़ में रुकने के लिए होटल्स – Hotels in Junagadh in Hindi

जूनागढ़ में रुकने के लिए होटल्स - Hotels in Junagadh in Hindi

यदि आप अपनी जूनागढ़ के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस की ट्रिप में रुकने के लिए होटल्स को सर्च कर रहे है, तो हम आपको बता दे, जूनागढ़ में रुकने के लिए लो बजट से लेकर हाई बजट तक सभी टाइप की होटल्स अवेलेबल है, जिनका आप अपनी चॉइस और बजट के अनुसार से सिलेक्शन कर सकते है।

  • होटल प्लैटिनम (HOTEL PLATINUM)
  • क्लिक होटल, जूनागढ़ (Click Hotel, Junagadh)
  • होटल ग्रीनलैंड HOTEL GREENLAND
  • हॉलिडे होटल एंड रिसॉर्ट जूनागढ़ (Holiday hotel and resort Junagadh)

जूनागढ़ केसे पहुंचें – How to Reach Junagadh in Hindi

जूनागढ़ की यात्रा पर जाने वाले पर्यटकों को बता दे आप फ्लाइट, ट्रेन या रोडवे में से किसी से भी ट्रेवल करके जूनागढ़ पहुंच सकते है।

तो आइये नीचे डिटेल में जानते है, हम फ्लाइट ट्रेन या सड़क मार्ग से जूनागढ़ केसे पहुचें –

फ्लाइट से जूनागढ़ केसे जायें – How to Reach Junagadh by Flight in Hindi

फ्लाइट से जूनागढ़ केसे जायें – How to Reach Junagadh by Flight in Hindi

यदि आपने जूनागढ़ घूमने जाने के लिए फ्लाइट का सिलेक्शन किया है, तो जान लें जूनागढ़ के लिए कोई सीधी फ्लाइट कनेक्टविटी नही है। जूनागढ़ का निकटतम एयरपोर्ट राजकोट में है, जो जूनागढ़ से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। फ्लाइट से ट्रेवल करके राजकोट एयरपोर्ट पहुचने के बाद वहाँ से आप बस, कार, या कैब से ट्रेवल करके जूनागढ़ पहुंच सकते हैं।

जूनागढ़ ट्रेन से केसे जायें – How to Reach Junagadh by Train in Hindi

जूनागढ़ ट्रेन से केसे जायें – How to Reach Junagadh by Train in Hindi

ट्रेन से ट्रेवल करके जूनागढ़ की यात्रा पर जाने वाले पर्यटकों को बता दे जूनागढ़ में अपना रेलवे स्टेशन मौजूद है, जो नियमित ट्रेनों के माध्यम से गुजरात और भारत के प्रमुख शहरों से जुड़ा है। इसीलिए ट्रेन से ट्रेवल करके जूनागढ़ आना आपके लिए बेस्ट विकल्प है। ट्रेन से ट्रेवल करके जूनागढ़ रेलवे स्टेशन पहुचने के बाद आप स्थानीय साधनों की मदद से अपने गंतव्य तक पहुच सकते है।

 जूनागढ़ सड़क मार्ग से केसे पहुचें – How to Reach Junagadh by Raod in Hindi

जूनागढ़ सड़क मार्ग से केसे पहुचें – How to Reach Junagadh by Raod in Hindi

जूनागढ़ राज्य के विभिन्न शहरों से सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है, और इसलिए देश के किसी भी हिस्से से जूनागढ़ की यात्रा करना काफी आसान है। अहमदाबाद, सूरत और राजकोट जैसी शहरों से जूनागढ़ के लिए बसे भी उपलब्ध है। बस के अलावा आप अपनी निजी कार या टेक्सी से भी जूनागढ़ की यात्रा कर सकते है।

और पढ़े : चंपानेर-पावागढ़ स्थल घूमने की जानकारी और इसके पर्यटन स्थल

इस आर्टिकल में आपने जूनागढ़ के प्रमुख पर्यटक स्थल और यात्रा से जुड़ी पूरी जानकारी को डिटेल में जाना है आपको हमारा ये आर्टिकल केसा लगा हमे कमेन्ट करके जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

जूनागढ़ का मेप – Map of junagarh in Hindi

और पढ़े :

 

 

Leave a Comment