औरंगाबाद पर्यटन स्थल गाइड - Aurangabad In Hindi

औरंगाबाद पर्यटन स्थल गाइड – Best Tourist Places In Aurangabad In Hindi

Aurangabad In Hindi, औरंगाबाद भारत के महाराष्ट्र राज्य में स्थित एक प्रसिद्ध शहर है जिसे 2010 में सरकार ने महाराष्ट्र की पर्यटन राजधानी के रूप में घोषित किया था। औरंगाबाद महाराष्ट्र का एक प्रमुख पर्यटन केंद्र है जो अपने कई आकर्षक दर्शनीय स्थलों से पर्यटकों को आकर्षित करता है। 17 वीं शताब्दी ईस्वी के दौरान यह शहर में मुगल सम्राट औरंगजेब की राजधानी रहा है और इसकी वजह से इसका नाम औरंगाबाद नाम पड़ा है। औरंगाबाद अपने ऐतिहासिक स्थल अजंता, एलोरा, दौलताबाद किले के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। यहां के ऐतिहासिक स्थलों को देखने के लिए पूरे भारत के पर्यटक यात्रा करते हैं।

Read moreऔरंगाबाद पर्यटन स्थल गाइड – Best Tourist Places In Aurangabad In Hindi

नाशिक के कालाराम मंदिर से जुड़ी पूरी जानकारी - Kalaram Temple In Hindi

नाशिक के कालाराम मंदिर से जुड़ी पूरी जानकारी – Kalaram Temple Information In Hindi

Kalaram Temple In Hindi, कालाराम मंदिर भारत के महारास्ट्र राज्य के नाशिक जिले में पंचवटी पर्यटन स्थल के पास स्थित है। कालाराम मंदिर (Kalaramji Mandir) के प्रमुख देवता भगवान राम हैं और यह मंदिर हिन्दू धर्म से संबधित एक प्राचीन मंदिर हैं। मंदिर में स्थित भगवान राम की मूर्ती काले पाषाण की बनी हुई हैं इसलिए मंदिर का नाम काला राम टेम्पल रखा गया हैं। कालाराम मंदिर नाशिक शहर के सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों में से एक हैं और भक्तो की आस्था का केंद्र बना हुआ हैं।

Read moreनाशिक के कालाराम मंदिर से जुड़ी पूरी जानकारी – Kalaram Temple Information In Hindi

महाबलेश्वर मंदिर के दर्शन की पूरी जानकारी - Mahabaleshwar Temple In Hindi

महाबलेश्वर मंदिर के दर्शन की पूरी जानकारी – Mahabaleshwar Temple In Hindi

Mahabaleshwar Temple In Hindi, महाबलेश्वर मंदिर भारत के महाराष्ट्र राज्य में महाबलेश्वर शहर से 6 किमी की दूरी पर स्थित एक प्राचीन मंदिर है, जो मराठा विरासत का एक आदर्श उदाहरण है। महाबली के नाम से प्रसिद्ध यह मंदिर हर साल भारी संख्या में पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। महाबलेश्वर मंदिर हिंदू धर्म का एक प्रमुख मंदिर है क्योंकि यह भगवान शिव को समर्पित है। महाबलेश्वर में आकर्षक पहाड़ियों के बीच स्थित यह मंदिर 16 वीं शताब्दी के दौरान मराठा साम्राज्य और उसके शासन का महिमामंडन करता है। महाबलेश्वर मंदिर महाराष्ट राज्य के सबसे प्राचीन मंदिरों में से एक है और इसका निर्माण 16 वीं शताब्दी में चंदा राव मोर वंश द्वारा किया गया था।

Read moreमहाबलेश्वर मंदिर के दर्शन की पूरी जानकारी – Mahabaleshwar Temple In Hindi

महाराष्ट्र का प्रतापगढ़ किला घूमने की पूरी जानकारी - Pratapgad Fort In Hindi

महाराष्ट्र का प्रतापगढ़ किला घूमने की पूरी जानकारी – Pratapgad Fort Maharashtra In Hindi

Pratapgad Fort In Hindi, प्रतापगढ़ महाराष्ट्र का एक पहाड़ी किला है, जो सतारा जिले में महाबलेश्वर के प्रसिद्ध हिल स्टेशन के करीब स्थित है। आपको बता दें कि यह किला जमीन से लगभग 3500 फीट की ऊंचाई पर खड़ा हुआ है। प्रतापगढ़ किला यहां का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है औरइसकी बहुत किलेबंदी अभी भी बरकरार हैं इस किले के भीतर चार झीलें हैं, जिनमें से कई मानसून के दौरान बहती हैं। प्रतापगढ़ दुर्ग का निर्माण 1656 में शिवाजी द्वारा करवाया गया था। प्रतापगढ़ किले में उनकी एक मूर्ति भी स्थित है जो 60 साल पहले स्थापित की गई थी। किले में स्थित आकर्षक तालाब, बड़े कक्ष और लंबे अंधेरे गलियारे पर्यटकों को मोहित करने में कभी भी फ़ैल नहीं होते।

Read moreमहाराष्ट्र का प्रतापगढ़ किला घूमने की पूरी जानकारी – Pratapgad Fort Maharashtra In Hindi

भगवान राम के वनवास पंचवटी में घूमने लायक जगह की जानकारी – Panchavati Darshan In Hindi

भगवान राम के वनवास पंचवटी में घूमने लायक जगह की जानकारी – Panchavati Tourism Information In Hindi

Panchavati Darshan In Hindi, पंचवटी भारत के महाराष्ट्र राज्य में नाशिक शहर के उत्तर-पश्चिम में स्थित बहुत ही पवित्र तीर्थ स्थल है। पंचवटी गोदावरी नदी के तट पर स्थित एक बहुत ही शांत पर्यटन स्थल है जोकि हिन्दू महाकाव्य रामायण से बहुत गहरा सम्बन्ध रखता है। पंचवटी में पांच बरगद के पेड़ों का समूह है जहां भगवान राम ने माता सीता और लक्ष्मण  जी के साथ अपने वनवास का कुछ समय व्यतीत किया था। नाशिक भारत के धार्मिक शहरो में शीर्ष स्थान पर आता है और यहाँ गोदावरी नदी के तट पर कुम्भ मेले का आयोजन किया जाता हैं। पंचवटी पर्यटन स्थल अपने गौरव और धार्मिक संस्कृति के लिए बहुत अधिक लौकप्रिय है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पंचवटी वही स्थल हैं सीता हरण हुआ था। पंचवटी के प्रमुख आकर्षण में शामिल कालाराम मंदिर और सीता गुफा (Kalaram Temple And The Sita Gufa) शामिल हैं।

Read moreभगवान राम के वनवास पंचवटी में घूमने लायक जगह की जानकारी – Panchavati Tourism Information In Hindi

शनि शिंगणापुर मंदिर के दर्शन और यात्रा की पूरी जानकारी - Shani Shingnapur Temple In Hindi

शनि शिंगणापुर मंदिर के दर्शन और यात्रा की पूरी जानकारी – Shani Shingnapur Temple Information In Hindi

Shani Shingnapur Temple In Hindi, शनि शिंगनापुर मंदिर महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर भगवान शनि के लिए प्रसिद्ध है, जिनके बारे में माना जाता है कि वे आज भी यहां एक काले पत्थर में निवास करते हैं। यह मंदिर हर साल बड़ी मात्र में भक्तों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। शनि शिगनापुर मंदिर के प्रति लोगों का विश्वास इतना मजबूत है कि यहां गाँव के किसी भी घर में दरवाजे और ताले का इस्तेमाल नहीं करता। यहां के लोगों का मानना है कि भगवान शनि चोरों से उनके सामान की रक्षा करते हैं। शनिवार, अमावस्या और श्री शनैश्चर जयंती जैसे पवित्र मौकों पर यहां पर लोगों के उत्साह का स्तर काफी ज्यादा होता है। कुछ यहां कुछ हिंदू भक्त रोजाना भगवान शनि को प्रसन्न करने के लिए उनकी पूजा करते हैं क्योंकि ऐसा मानना है कि किसी के जीवन पर शनि ग्रह का प्रभाव दुर्भाग्य के रूप में माना जाता है।

Read moreशनि शिंगणापुर मंदिर के दर्शन और यात्रा की पूरी जानकारी – Shani Shingnapur Temple Information In Hindi

महाराष्ट्र के पुरंदर किले का इतिहास क्यों है इतना खास ?

Purandar Fort In Hindi, पुरंदर किला महाराष्ट्र के प्रमुख ऐतिहासिक किलो में से एक हैं और इस किले को पुरंधर किला के नाम से भी जाना जाता हैं। पुरंदर किला महारास्ट्र के पुणे में पश्चिमी घाट पर स्थित है। पुरंदर किला आदिल शाही बीजापुर सल्तनत और मुगलों के खिलाफ छत्रपति शिवाजी महाराज के उदय के प्रतीक के रूप में जाना जाता है क्योंकि यह शिवाजी महाराज की पहली जीत थी। समुद्र तल से पुरंदर किले की ऊंचाई 4472 फीट है। पुरंदर किले के नाम पर एक गांव का नाम रखा गया है जोकि किले के निचले हिस्से में स्थित हैं और पुरंदर ग्राम के नाम से जाना जाता है।

Read moreमहाराष्ट्र के पुरंदर किले का इतिहास क्यों है इतना खास ?

मुरुद जंजीरा किला घूमने की जानकारी और इस पर्यटन स्थल -  Janjira Fort In Hindi

महाराष्ट्र के मुरुद जंजीरा किला घूमने की सोच रहे है तो किले के बारे जरुर जाने यह बाते

Janjira Fort In Hindi, मुरुद जंजीरा किला एक विशाल और शक्तिशाली किला है जोकि भारत के महाराष्ट्र राज्य में अलीबाग से लगभग 55 किलोमीटर की दूरी पर मुरुद के तटीय गांव में एक द्वीप पर स्थित है। माना जाता हैं कि मरूद जंजीरा किला लगभग 350 वर्ष पुराना हैं और इसके निर्माण में 22 वर्ष का समय लग गया था। जंजीरा किला की ऊंचाई समुद्र तट से लगभग 90 फिट हैं और इसकी नीव की गहराई लगभग 20 हैं। यह जाने कि आपको हैरानी होगी की मुरुद जंजीरा किला 22 सुरक्षा चौकियो के साथ-साथ 22 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ हैं। इस किले पर सिद्की शासको का शासन रहा और कई बार अन्य शासको ने जंजीरा किला जीतने का असफल प्रयास किया है।

Read moreमहाराष्ट्र के मुरुद जंजीरा किला घूमने की सोच रहे है तो किले के बारे जरुर जाने यह बाते

लोहागढ़ किला लोनावाला घूमने की जानकारी और आकर्षण स्थल - Lohagad Fort In Hindi

लोहागढ़ किला लोनावाला घूमने की जानकारी और आकर्षण स्थल – Lohagad Fort Information In Hindi

Lohagad Fort In Hindi, लोहागढ़ का किला समुद्र तल से लगभग 3400 फीट की ऊंचाई पर स्थित भारत के महारास्ट्र राज्य का एक प्रमुख पर्यटन स्थल हैं। लोहागढ़ का किला यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में भी अपनी जगह बना चुका है। यह ऐतिहासिक किला पुणे से लगभग 52 किलोमीटर की दूरी पर और लोनावाला हिल स्टेशन से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर लोहागढ़ किला पर्यटन स्थल में स्थित हैं। लोहागढ़ किला एक खूबसूरत पहाड़ी पर स्थित है। लोहागढ़ किले में प्राचीन वास्तुकला और प्राकृतिक सुंदरता का परिपूर्ण समागम देखने को मिलता है। लोहागढ़ किला ट्रेकिंग और प्रकृति प्रेमियों के लिए एक आदर्श डेस्टिनेशन के रूप में कार्य करता है।

Read moreलोहागढ़ किला लोनावाला घूमने की जानकारी और आकर्षण स्थल – Lohagad Fort Information In Hindi

राजगढ़ किला पुणे घूमने की जानकारी और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल - Rajgad Fort Pune In Hindi

राजगढ़ किला पुणे घूमने की जानकारी और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल – Rajgad Fort Pune Information In Hindi

Rajgad Fort Pune In Hindi, राजगढ़ का किला (रूलिंग फोर्ट) एक पहाड़ी किला है जोकि भारत के महाराष्ट्र राज्य के पुणे जिले में स्थित है। राजगढ़ किले को पहले मुरुमदेव के नाम से जाना जाता था। छत्रपति शिवाजी महाराज के शासन काल के दौरान लगभग 26 वर्षो तक यह मराठा साम्राज्य की राजधानी के रूप रहा था। इसके बाद राजधानी को रायगढ़ किले में स्थानांतरित कर दिया गया था। राजगढ़ किले की ऊंचाई समुद्र तल से 1400 मीटर है।

Read moreराजगढ़ किला पुणे घूमने की जानकारी और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल – Rajgad Fort Pune Information In Hindi