सिमलीपाल नेशनल पार्क – Simlipal National Park in Hindi

Simlipal National Park in Hindi : सिमलीपाल नेशनल पार्क ओडिशा में मयूरभंज जिले में स्थित एक प्रमुख बाघ अभयारण्य है। 845.70 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ सिमलीपाल भारत का सबसे बड़ा वन्यजीव अभयारण्य है जिसे भारत की प्रमुख बाघ परियोजनाओं में से एक माना जाता है। यह क्षेत्र घने जंगलों, हरे भरे घास के मैदानों, चौंकाने वाले झरनों, खूबसूरत नदियों जीवों की विशाल किस्मों के साथ भी धन्य है, जो इसे वन्यजीव पर्यटन स्थलों में शामिल होने के लिए एक शानदार जगह बनाते हैं! सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान का एक और प्रमुख आकर्षण जीप सफारी है जो यहाँ आने वाले पर्यटकों को वन्यजीवों और खूबसूरती को करीब से महसूस करने का अवसर प्रदान करती है। यह रिज़र्व 2009 के बाद से यूनेस्को के वर्ल्ड नेटवर्क ऑफ़ बायोस्फीयर रिज़र्व का हिस्सा भी है।

यदि आप सिमलीपाल नेशनल पार्क घूमने जाने को प्लान कर रहे है या फिर इस टाइगर रिजर्व के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े –

Table of Contents

सिमलीपाल नेशनल पार्क का इतिहास – History of Simlipal National Park in Hindi

यदि हम सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान पर नजर डालें तो साफ़ साफ़ पता चलता है की सिमलीपाल अभयारण्य एक समय सूबे के शासकों का शिकारगाह हुआ करता था। इस अभयारण्य को औपचारिक रूप से 1956 में टाइगर रिज़र्व और मई 1973 में प्रोजेक्ट टाइगर के तहत नामित किया। इसके बाद समय समय पर इसके क्षेत्रफल को बढाया गया और 1986 में इस राष्ट्रीय उद्यान का क्षेत्रफल बढ़ाकर 845.70 वर्ग किलोमीटर कर दिया गया था। उसके बाद 1994 में इसे भारत सरकार ने एक बायोस्फीयर रिजर्व के रूप में घोषित किया। जबकि 2009 में यूनेस्को ने भी इसे अपनी सूचि में शामिल कर लिया था।

सिमलीपाल नेशनल पार्क के वन्यजीव – Wildlife of Simlipal National Park in Hindi

सिमलीपाल नेशनल पार्क के वन्यजीव - Wildlife of Simlipal National Park in Hindi

सिमलिपाल रिजर्व वन्यजीव प्राणियों की विशाल विविधता के लिए एक सुरक्षित आश्रय स्थल है जिसमे 99 शाही बाघों और 432 जंगली हाथियों सहित तेंदुआ, गौर, हाथी, लंगूर, बार्किंग और चित्तीदार हिरण, स्लॉथ बीयर मोंगोज, फ्लाइंग गिलहरी, साही, कछुआ, मॉनिटर छिपकली, अजगर, सांबर, पैंगोलिन, मगरमच्छ जैसी कई वन्यजीव प्रजातियाँ पाई जाती है। इनके अलावा इस पार्क में पक्षियों की लगभग 230 भी देखी जा सकती है। हाथियों की विशाल आबादी के कारण इसे सिमलीपाल हाथी अभ्यारण्य के रूप में भी जाना जाता है।

सिमलीपाल नेशनल पार्क की वनस्पतियां – Flora of Simlipal National Park in Hindi

सिमलीपाल नेशनल पार्क की वनस्पतियां – Flora of Simlipal National Park in Hindi
Image Credit : Subho Rock

845.70 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ सिमलीपाल टाइगर रिजर्व पूर्वी हाइलैंड्स के नम पर्णपाती जंगलों में स्थित है, जिसमें उष्णकटिबंधीय नम चौड़ी जंगल और उष्णकटिबंधीय शुष्क पर्णपाती वन के साथ शुष्क पर्णपाती पहाड़ी वन और उच्च स्तर के सल वन हैं। यह पार्क पौधों की 1076 प्रजातियों का खजाना है जिसमे में ऑर्किड की 96 प्रजातियों की पहचान यहां की जा चुकी है। साथ ही यह राष्ट्रीय उद्यान असंख्य औषधीय और सुगंधित पौधों का दावा भी करता हैं, जो जनजातीय लोगों के लिए कमाई का एक स्रोत प्रदान करते हैं।

सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान के आकर्षण – Attractions at the National Park in Hindi

2700 वर्ग किलोमीटर के घने जंगलों में स्थित सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान वन्यजीव और प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग के समान है। यहाँ पर्यटकों के देखने के लिए बहुत कुछ है पर्यटक यहाँ कराहते हुए बरहिपानी फॉल्स (ऊंचाई में 399 मीटर) और जरांडा फॉल्स (लगभग 151 फीट लंबा) की सैर कर सकते हैं। इस रिजर्व में एक मगरमच्छ पालन का खेत भी है जहाँ तेजस्वी सरीसृप को उनके सुंदर प्राकृतिक आवास में देखा जा सकता है।

और पढ़े : संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान

सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान सफारी – Simlipal National Park Safari in Hindi

सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान सफारी  - Simlipal National Park Safari in Hindi

जंगल जीप सफारी पार्क की यात्रा पर आने वाले पर्यटकों के लिए सबसे आकर्षक गतिविधियों में से एक है जिसके बिना यात्रा आधूरी मानी जाती है। इसीलिए यदि आप अपने फ्रेंडस या फैमली के साथ सिमलीपाल टाइगर रिजर्व की ट्रिप पर जाने वाले है तो जीप सफारी को एन्जॉय जरूर करें। यह सफारी आपको वन्यजीवों और खूबसूरती को करीब से महसूस करने का अवसर प्रदान करती है।

सिमलीपाल नेशनल पार्क की यात्रा के लिए टिप्स – Tips for traveling to Simlipal National Park in Hindi

सिमलीपाल नेशनल पार्क की यात्रा के लिए टिप्स - Tips for traveling to Simlipal National Park in Hindi
Image Credit : Dharitri Tudu

यदि आप सिमलीपाल नेशनल पार्क की यात्रा पर जाने वाले है तो किसी भी दुर्घटना और परेशानी से बचने के लिए नीचे दिए इन टिप्स को अपनी यात्रा के दौरान अवश्य फोलो करें –

  • सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान की यात्रा पर जाने से पहले रूम और सफारी की बुकिंग अवश्य कर ले, क्योंकि पीक सीजन में कभी कभी सफारी और होटल्स की तुरंत बुकिंग करना थोड़ा मुस्किल होता है, जो आपकी यात्रा को प्रभावित कर सकते है।
  • अपनी ट्रिप में चमकीले रंगों के कपड़े न पहनें क्योंकि यह खतरनाक जानवरों को आकर्षित कर सकता है।
  • पार्क के किसी प्रतिबंधित क्षेत्रों में प्रवेश करने की कोशिश ना करें।
  • सफारी राइड में अपने गाइड की परमिशन के बिना जीप से बाहर ना निकलें।
  • सिमलीपाल नेशनल पार्क की यात्रा में कैमरा, दूरबीन और अन्य आवश्यक चीजें जरूर साथ रखें।
  • पार्क में किसी भी जानवर को खिलाने या उनके पास जाने की कोशिश ना करें।
  • सिमलीपाल नेशनल पार्क की यात्रा में स्मोकिंग बिलकुल ना करें, क्योंकि इससे आग लगने का खतरा बना रहता है।

सिमलीपाल नेशनल पार्क की टाइमिंग  – Simlipal National Park Timing in Hindi

सिमलीपाल नेशनल पार्क की टाइमिंग  – Simlipal National Park Timing in Hindi
Image Credit : Avishek Jana
  •  सुबह 6.00 बजे से 2.00 बजे तक (नवंबर से मध्य जून)

सिमलीपाल नेशनल पार्क की एंट्री फीस – Entry fees of Simlipal National Park in Hindi

  • 100 रूपये प्रति व्यक्ति

सिमलीपाल नेशनल पार्क के आसपास घूमने की जगहें – Places to visit around Simlipal National Park in Hindi

यदि आप सिमलीपाल नेशनल पार्क की ट्रिप पर जाने वाले है तो ध्यान से सिमलीपाल नेशनल पार्क के आसपास घूमने के लिए भी कई जगहें मौजूद है जिन्हें आप अपनी यात्रा के दौरान घूमने जा सकते है।

  • ज्वाला मुखी मंदिर
  • जगन्नाथ मंदिर
  • चांदीपुर मार्किट
  • मयूर भंज पैलेस
  • बारीपाड़ा संग्रहालय

सिमलीपाल नेशनल पार्क घूमने जाने का बेस्ट टाइम – Best time to visit Simlipal National Park in Hindi

सिमलीपाल नेशनल पार्क घूमने जाने का बेस्ट टाइम - Best time to visit Simlipal National Park in Hindi

सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान नवंबर से मध्य जून तक ही खुलता है मानसून के आने से पहले इसे पर्यटकों के घूमने के लिए बंद कर दिया जाता है। इसीलिए नवंबर से मध्य जून तक ही इस राष्ट्रीय उद्यान की यात्रा की जा सकती है। लेकिन यदि हम यहाँ घूमने के सबसे अच्छे समय की बात करें तो वह नवंबर से मार्च (सर्दियों) के बीच का समय माना जाता है। सर्दियों का समय ऐसा समय होता है, जब आप यहाँ बाघों, हिरण सहित बिभिन्न वन्य जीवो को धुप सेकते हुए देख सकते है। गर्मियों के दौरान यहाँ का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुच जाता है, इसीलिए गर्मियों का समय सिमलीपाल टाइगर रिजर्व की ट्रिप के लिए उपयुक्त समय नही माना जाता है।

और पढ़े : उड़ीसा में घूमने लायक 10 खूबसूरत जगहों की जानकारी

सिमलीपाल नेशनल पार्क में रुकने के लिए जगहें – Stay at Simlipal National Park in Hindi

सिमलीपाल नेशनल पार्क में रुकने के लिए जगहें - Stay at Simlipal National Park in Hindi
Image Credit : Satyabinayak Purohit

यदि आप सिमलीपाल नेशनल पार्क के लिए होटल्स या अन्य ऑप्शन को सर्च कर रहे है तो हम आपको बता दे सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान के अंदर कुछ रिसॉर्ट हैं – जशिपुर में सिमलीपाल रिज़ॉर्ट, बंगरीपोसी में सिमलिपाल खैरी रिज़ॉर्ट और रामतीर्थ में तोशली जंगल लॉज। राष्ट्रीय उद्यान के अंदर रहने के लिए अधिकतम 3 दिन और न्यूनतम एक दिन के लिए बुकिंग की अनुमति है।

यदि आप सिमलीपाल नेशनल पार्क के बाहर रुकना चाहते है तो उसके लिए अप सागरिका होटल, सिद्धार्थ होटल, दिव्या पैलेस, महिपा होटल को सिलेक्ट कर सकते है।

सिमलीपाल नेशनल पार्क केसे पहुचें – How to reach Simlipal National Park in Hindi

सिमलीपाल टाइगर रिजर्व की यात्रा पर जाने वाले पर्यटकों को बता दे आप फ्लाइट, ट्रेन या रोडवे में से किसी से भी ट्रेवल करके सिमलीपाल नेशनल पार्क मध्यप्रदेश पहुंच सकते है।

तो आइये नीचे डिटेल में जानते है, हम फ्लाइट ट्रेन या सड़क मार्ग से सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान केसे पहुचें

फ्लाइट में सिमलीपाल नेशनल पार्क केसे पहुचें – How To Reach Simlipal National Park By Flight in Hindi

फ्लाइट में सिमलीपाल नेशनल पार्क केसे पहुचें – How To Reach Simlipal National Park By Flight in Hindi

यदि आपने अपनी सिमलीपाल नेशनल पार्क की ट्रिप के लिए फ्लाइट से ट्रेवल करने के ऑप्शन को सिलेक्ट किया है, तो हम आपको बता दे सिमलीपाल टाइगर रिजर्व का निकटतम एयरपोर्ट भुवनेश्वर में है, जो पार्क से लगभग 195 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह एयरपोर्ट दिल्ली, आगरा सहित भारत के कई प्रमुख शहरों से हवाई मार्ग द्वारा जुड़ा है। फ्लाइट से ट्रेवल करके भुवनेश्वर एयरपोर्ट पहुचने के बाद, सिमलीपाल नेशनल पार्क जाने के लिए आप एक टेक्सी बुक कर सकते है।

ट्रेन से सिमलीपाल नेशनल पार्क केसे जायें – How To Reach Simlipal National Park By Train in Hindi

ट्रेन से सिमलीपाल नेशनल पार्क केसे जायें – How To Reach Simlipal National Park By Train in Hindi

सिमलीपाल नेशनल पार्क से लगभग 60 की दूरी पर स्थित बालासोर रेलवे स्टेशन पार्क का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन है। यदि अप ट्रेन से सिमलीपाल टाइगर रिजर्व जाने को प्लान कर रहे है तो आपको बालासोर रेलवे स्टेशन की लिए ट्रेन लेनी होगी। रेलवे स्टेशन पर उतरने के बाद आप स्थानीय वाहनों की मदद से आसानी सिमलीपाल नेशनल पार्क जा सकते है।

सड़क मार्ग से सिमलीपाल नेशनल पार्क केसे पहुंचे – How To Reach Simlipal National Park By Road in Hindi

सड़क मार्ग से सिमलीपाल नेशनल पार्क केसे पहुंचे – How To Reach Simlipal National Park By Road in Hindi

बस या सड़क मार्ग से सिमलीपाल नेशनल पार्क की यात्रा करना भी एक बेस्ट ऑप्शन है, जो टूरिस्ट्स को काफी पसंद भी आता है। यदि आप बस यात्रा करके आते है तो पहले आपको बारीपाड़ा आना होगा, वहा से आप एक टेक्सी या अन्य फोर व्हीलर वाहन बुक करके सिमलीपाल नेशनल पार्क पहुच सकते है। इसके अलवा आप अपनी कार से भी सिमलीपाल टाइगर रिजर्व घूमने जा सकते है।

और पढ़े : भारत के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान की जानकरी

इस आर्टिकल में आपने सिमलीपाल नेशनल पार्क की ट्रिप से रिलेटेड पूरी इन्फोर्मेशन को डिटेल में जाना है आपको हमारा ये आर्टिकल केसा लगा हमे कमेंट्स में जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

सिमलीपाल नेशनल पार्क का मेप – Map of Simlipal National Park

और पढ़े :

Leave a Comment