दक्षिण का कश्मीर – लांबासिंगी घूमने की पूरी जानकारी – Complete Information About Visiting Beautiful Village Lambasingi In Hindi

Lambasingi in HIndi, लांबासिंगी आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम जिले का एक खुबसूरत गांव है। यह जगह समुद्र तल से 1000 मीटर की दूरी पर स्थित है और यह क्षेत्र विशाखापत्तनम के अन्य मैदानों की तुलना में अत्यंत सुंदर है। लांबासिंगी अपने चाय और कॉफी बागानों के लिए प्रसिद्ध है जो बड़ी मात्रा में पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते है। इसके अलावा, यह जगह विभिन्न प्रकार के वन्यजीवों, वनस्पतियों और जीवों के साथ प्रचुर है। हर साल थोड़ी बर्फबारी के कारण लांबासिंगी को ‘आंध्र प्रदेश के कश्मीर के नाम से भी जाना जाता है। इसके अलावा यह गाँव पूरे दक्षिण भारत में एकमात्र स्थान है जहाँ तापमान में गिरावट के साथ बर्फबारी होती है। प्रचुर मात्रा में प्राकृतिक सुंदरता और भव्य नज़ारों के अलावा यह गाँव साहसिक गतिविधियों की अधिकता भी प्रदान करता है, जिन पर आप अपने हाथ आज़मा सकते हैं।

यदि आप अपनी फैमली या दोस्तों के साथ घूमने के लिए चिलिंग टेम्प्रेचर, पेल मिस्ट्स, रंग-बिरंगे बगीचे और प्राकृतिक प्राकृतिक सौंदर्य की तलाश में हैं,तो आपको विशाखापट्टनम जिले के इस सुंदर गाँव लांबासिंगी की यात्रा अवश्य करनी चाहिये। तो आइये इस लेख के माध्यम से हम लांबासिंगी की सुन्दरता को करीब से जानने का प्रयास करते हैं-

Table of Contents

लांबासिंगी में घूमने के लिए सर्वश्रेष्ठ स्थान – Best Places To Visit In Lambasingi in HIndi

लांबासिंगी विशाखापट्टनम जिले का सुंदर गाँव है जो अपने यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए एक से बढ़कर एक आकर्षक स्थलों की पेशकश करता है। तो आइये नीचे जानते है लांबासिंगी की लोकप्रिय जगहों के बारे जो वास्तव में किसी देखने योग्य है-

थाजंगी जलाशय – Thajangi Reservoir in HIndi

थाजंगी जलाशय – Thajangi Reservoir in HIndi
Image Credit : Santhosh Chinnu

लांबासिंगी से लगभग 6 किमी की दूरी पर स्थित थाजंगी जलाशय लाम्बासिंगी का सबसे दर्शनीय स्थल है, जिसकी पृष्ठभूमि में राजसी पहाड़ियों और एक शक्तिशाली नदी है। एक ओस पहाड़ों और धुंधली घास के मैदान के बीच स्थित थाजंगी जलाशय एक शानदार दृश्य प्रदान करता है जो किसी भी को आकर्षित करने के लिए पर्याप्त है। इस क्षेत्र के चारों ओर पानी बहता है एक हरे रंग की पृष्ठभूमि पर एक नीले कंबल की तरह है। थाजंगी जलाशय फोटोग्राफर और प्रकृति प्रेमीयों के लिए किसी स्वर्ग से कम नही है यकीन मानिये इस जगह पर एक बार आने के बाद आप यहाँ बार बार आने की कल्पना करेगें।

थाजंगी जलाशय की टाइमिंग – Timing of Thajangi Reservoir in HIndi

  • बता दे थाजंगी जलाशय 24 घंटे खुला रहता है आप किसी भी इस अविस्मरणीय जगह घूमने जा सकते हैं।

थाजंगी जलाशय का प्रवेश शुल्क – Entry fee of Thajangi Reservoir in HIndi

  • यदि आप लांबासिंगी में थाजंगी जलाशय घूमने जाने वाले है तो आपके लिए एक अच्छी खबर है। बता दे थाजंगी जलाशय में पर्यटकों के घूमने के लिए कोई एंट्री फीस नही है यहाँ आप बिना किसी शुल्क का भुगतान अपनी यात्रा को एन्जॉय कर सकते हैं।

कोठापल्ली झरने – Kothapalli Waterfalls in HIndi

कोठापल्ली झरने - Kothapalli Waterfalls in HIndi

भारत के दक्षिणपूर्वी तट पर स्थित कोठापल्ली झरना लांबासिंगी का एक छिपा हुआ खजाना है जिसने बुनियादी ढांचा नहीं मिलने के बावजूद भी पूरे आंध्र प्रदेश के पर्यटकों को अपने ओर आकर्षित किया है। यदि आप एक ऐसी जगह की तलाश में हैं जहां आप लैम्बासिंगी में हाइपर-कूल मौसम का आनंद लेने के बाद पानी में मस्ती कर सके तो आपको कोठापल्ली झरने का दौरा करना होगा।

कोठापल्ली वॉटरफॉल की टाइमिंग – Timing of Kothapalli Waterfalls in HIndi

  • यदि आप अपनी लैम्बासिंगी की यात्रा में कोठापल्ली झरना घूमने जाने वाले हैं तो आपको बता दे यह वॉटरफॉल सुबह 6.00 बजे से शाम 5.30 बजे तक खुला रहता है इसके अलावा आपको अवगत करा दे कोठापल्ली वाटरफाल में फुल एन्जॉय और मस्ती के लिए कम से कम 1-2 घटे का समय अवश्य निकालें।

कोठापल्ली वाटर फाल की एंट्री फीस – Entry fee of Kothapalli Waterfalls in HIndi

  • कोठापल्ली वाटरफाल पर्यटकों के घूमने के लिए बिलकुल निशुल्क है।

सुसान गार्डन – Susan Garden in HIndi

सुसान गार्डन - Susan Garden in HIndi

लैम्बासिंगी में यात्रा में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक सुसान गार्डन पीले रंग के फूलों से भरा हुआ है जो काले और पीले रंग के बिस्तर की चादर की तरह दिखते हैं। यह जगह शाम को और अधिक मनमोहक दृश्य प्रस्तुत करती है, जब सूर्य की किरणें फूलों पर गिरती हैं और पूरी जगह बहुत ही आश्चर्यजनक झिलमिलाती हुई दिखती है। यदि आप प्रकृति से प्यार करते हैं, तो आपको सुसान गार्डन की यात्रा करनी चाहिए। जहाँ आप आराम कर सकते हैं, इन फूलों के बीच सुंदर सूर्यास्त देख सकते हैं और साथ ही फोटोग्राफी करके अपनी यात्रा को यादगार बना सकते है।

सुसान गार्डन की टाइमिंग – Timing of Susan Garden in HIndi

  • बता दे सुसान गार्डन पर्यटकों के घूमने के लिए सुबह 7.00 बजे से शाम 6.00 बजे तक खुला रहता है इस समय के बीच आप कभी सुसान गार्डन घूमने जा सकते है।

सुसान गार्डन की एंट्री फीस – Entry fee of Susan Garden in HIndi

  • 20 रूपये प्रति व्यक्ति

घाट रोड – Ghat Road in HIndi

यदि आप अपने हनीमून के लिए लैम्बासिंगी यात्रा करने की योजना बना रहे हैं या आप एक कपल्स के रूप में जगह का दौरा कर रहे हैं, तो आप अपने प्रेमी के साथ घाट रोड नीचे टहलना आपके लिए एक शानदार अनुभव हो सकता है। पूरा घाट रोड धुंध और लंबा चमकीला पेड़ है जो सड़क के दोनों ओर पाया जाता है,पेड़ बहुत झाड़ीदार हैं और पहाड़ों से बादल गुजरते हैं। इस मनमोहनीय सुन्दरता से परिपूर्ण घाट रोड में अपनी वाइफ, या अपने प्रेमी के साथ टहलना वाकई जीवन भर का यादगार अनुभव हो सकता है। इसके अलावा यदि आप अपने दोस्तों या फैमली के साथ लैम्बासिंगी की यात्रा करने वाले है तो उनके साथ भी इस सुंदर जगह घूम सकते है।

और पढ़े : विशाखापत्तनम के पर्यटन स्थलों के बारे में जानकारी

बोज्जनकोंडा – Bojjankonda in HIndi

बोज्जनकोंडा - Bojjankonda in HIndi
Image Credit : Anoop Pillai

लिंगलाकोंडा और बोज्जनकोंडा लैम्बासिंगी की निकटवर्ती पहाड़ियों पर दो बौद्ध रॉक-कट गुफाएं हैं, जो शंकरम नामक एक गांव के पास स्थित है। इस क्षेत्र में पाए जाने वाले बुद्ध के मोनोलिथ चौथी और 9वीं शताब्दी में हैं। यह जगह बहुत सुंदर है क्योंकि पुरातात्विक संरचनाएं असली धान के खेतों से घिरी हुई हैं। जहाँ आप बोज्जनकोंडा की यात्रा में बौद्ध काल की संरचनाओं को देखने के साथ साथ  धान के खेतों की हवा को महसूस कर सकते हैं। इस क्षेत्र में कई बौद्ध मठ हैं जिन्हें कभी भी घूमने से नहीं चूकना चाहिए।

बोज्जनकोंडा की टाइमिंग – Timing of Bojjankonda in HIndi

  • यदि आप लैम्बासिंगी की यात्रा में बोज्जनकोंडा घूमने जाने वाले है तो हम आपको बता दे बोज्जनकोंडा पर्यटकों के घूमने के लिए प्रतिदिन सुबह 9.00 बजे से शाम 6.00 बजे तक खुलता है।

बोज्जनकोंडा की एंट्री फीस – Entry fee of Bojjankonda in HIndi

  • 15 रूपये प्रति व्यक्ति

कोंडाकरला पक्षी अभयारण्य – Kondakarla Bird Sanctuary in HIndi

कोंडाकरला पक्षी अभयारण्य - Kondakarla Bird Sanctuary in HIndi

यदि कोई वर्ष के सभी मौसमों के दौरान प्रवासी पक्षियों को देखना चाहता है, तो आपको कोंडाकरला पक्षी अभयारण्य का दौरा करने से नहीं चूकना चाहिए। इस जगह पर एक खूबसूरत झील भी है, जिसमें कोई भी नाव की सवारी ले सकता है। यदि कोई सुबह जल्दी उस स्थान का दौरा करता है, तो कोई भी पक्षियों को अपने प्राकृतिक आवासों में आराम कर सकता है। कोंडाकरला पक्षी अभयारण्य में अपनी सुबह बिताने के लिए कोई भी इस जगह की यात्रा कर सकता है, यही वजह है कि यह लैम्बासिंगी में देखने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है।

कोंडाकरला पक्षी अभयारण्य खुलने का समय – Timing of Kondakarla Bird Sanctuary in HIndi

बता दे कोंडाकरला पक्षी अभयारण्य पर्यटकों के घूमने के लिए सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक खुला रहता है, आप अपनी लैम्बासिंगी की यात्रा में इस समय के बीच कभी भी इस मनमोहक जगह घूमने जा सकते है।

कोंडाकरला पक्षी अभयारण्य का प्रवेश शुल्क – Entry fee of Kondakarla Bird Sanctuary in HIndi

  • 10 रुपये प्रति व्यक्ति

अन्नवरम मंदिर – Annavaram Temple in HIndi

अन्नवरम मंदिर - Annavaram Temple in HIndi
Image Credit : Sahahanand Zechonchon

यदि आप भगवान विष्णु के धर्मपरायण भक्त हैं तो रत्नागिरी पहाड़ी श्रृंखला में स्थित अन्नवरम मंदिर जाने से कभी नहीं चूकना चाहिए। अन्नवरम मंदिर आंधप्रदेश के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है जहाँ स्थानीय लोगो के साथ साथ राज्य के बिभिन्न कोनो से श्रद्धालु भगवान का आशीर्वाद लेने के लिए मंदिर का दौरा करते है। बता दे मंदिर से जुड़ी एक बहुत ही धर्मपरायण धारणा भी है। मंदिर में शक्ति है जो तिरुमाला मंदिर की पवित्रता के सामान मानी जाती है। इसके आलवा मंदिर की वास्तुकला भी आकर्षण का केंद्र बनी हुई है मंदिर का निर्माण द्रविड़ शैली में किया गया है जो तमिलनाडु की मंदिर शैलियों में पाया जा सकता है।

अन्नवरम मंदिर खुलने का समय – Timing of Annavaram Temple in HIndi

  • बात दे अन्नवरम मंदिर श्रद्धालुयों के प्रवेश और भगवान विष्णु के दर्शन के लिए सुबह 5.00 बजे से रात 9.00 बजे तक खुला रहता है।

अन्नवरम मंदिर का प्रवेश शुल्क – Entry fee of Annavaram Temple in HIndi

  • 30 रुपये प्रति व्यक्ति जबकि दर्शन की टिकटे अलग अलग है

लांबासिंगी की रोमांचक गतिविधियां – Activities at Lambasingi In Hindi

लैम्बासिंगी की रोमांचक गतिविधियां - Activities at Lambasingi In Hindi

प्रकृति के गोद में बसा लैम्बासिंगी अपने सुंदर और अद्भुद नजारों के साथ साथ अपनी एक्टिविटीज के लिया भी जाना जाता है जो पर्यटकों की यात्रा को रोमांच और उत्साह से भर देती है तो आइये जानते आप लैम्बासिंगी की यात्रा में क्या क्या कर सकते हैं-

  • आप अपनी लैम्बासिंगी की यात्रा में धुंध भरे बगीचों, सेब के बागों और कॉफी बागानों में टहल सकते हैं।
  • लैम्बासिंगी के आसपास के जंगलों में घूमें और प्रकृति के मनमोहनीय दृश्यों और रहस्यवाद का पता लगा सकते है।
  • मौके पर उपलब्ध कैम्पिंग, ट्रेकिंग, रॉक क्लाइम्बिंग, हाइकिंग और अन्य साहसिक गतिविधियों को एन्जॉय कर सकते है।
  • जीवंत गुलाब, झरने, नालों और हरी घास के मैदानों के रंगीन कैनवास के लिए लोकप्रिय अराकू घाटी का अन्वेषण करें।
  • अगर आप सूरज, समुद्र और रेत के लिए तरस रहे हैं तो लैंबासिंगी से सिर्फ 120 किलोमीटर दूर स्थित उप्पाडा बीच घूमने जा सकते है।
  • मनमोहनीय सुन्दरता से परिपूर्ण घाट रोड में अपनी वाइफ, अपने प्रेमी के साथ टहलना वाकई जीवन भर का यादगार अनुभव हो सकता है।

लांबासिंगी घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To visit Lambasingi In Hindi

लैम्बासिंगी घूमने जाने का सबसे अच्छा समय - Best Time To visit Lambasingi In Hindi

यदि आप अपनी फैमली दोस्तों के साथ या हनीमून मनाने के लिए लैंबासिंगी की यात्रा करने वाले हैं और लैंबासिंगी घूमने जाने के लिए सबसे अच्छे समय की तलाश में है। तो हम आपको बता दे लाम्बासिंगी की यात्रा के लिए सबसे अच्छा समय नवंबर से जनवरी सर्दियों के महीनों के दौरान होता है इस समय लैंबासिंगी का मौसम अनुकूल होता है साथ ही अगर आप लकी भाग्यशाली तो सादे क्षेत्र में बर्फबारी का अनुभव कर सकते हैं।

और पढ़े : चार धाम यात्रा करने की जानकारी

लैम्बासिंगी की यात्रा में कहाँ रुके – Where did you stay in lambasingi In Hindi

लैम्बासिंगी की यात्रा में कहाँ रुके – Where did you stay in lambasingi In Hindi

अक्सर हम किसी भी पर्यटक स्थल की यात्रा पर जाने से पहले अपनी यात्रा में रुकने के लिए सबसे अच्छी और अपने बजट के अनुसार होटलों की तलाश करने लगते है। यदि आप भी विशाखापट्टनम के खुबसूरत पर्यटक स्थल लैम्बासिंगी घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो अपनी यात्रा में रुकने के लिए होटल की तलाश में हैं तो हम आपको लैम्बासिंगी के आसपास और विशाखापट्टनम में रुकने के लिए लो बजट से हाई बजट तक सभी प्रकार की होटल्स मिल जायेगी जिनकी आप अपनी सुविधानुसार चुनाव कर सकते हैं।

  • होटल रेणुका (Hotel Renuka)
  • रुशिकोंडा सनराइज गेस्ट हाउस(Rushikonda Sunrise Guest house)
  • फार्च्यून इन श्री कन्या (Fortune Inn Sree Kanya)
  • द पोर्ट होटल (The Port Hotel)

लांबासिंगी केसे जाएँ – How To Reach Lambasingi In Hindi

बता दे लाम्बासिंगी विशाखापट्टनम के माध्यम राज्य और देश के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। राजधानी क्षेत्र होने के कारण विशाखापट्टनम काफी विकसित है और यहां देश के हर कोने से आने के लिए विभिन्न तरह के विकल्प एवं साधन मौजूद हैं। तो आइये हम नीचे विस्तार से जानते है की हम फ्लाइट ट्रेन और सड़क मार्ग से लैम्बासिंगी केसे जा सकते हैं।

हवाई जहाज द्वारा लैम्बासिंगी कैसे पहुंचें – How To Reach Lambasingi By Flight In Hindi

हवाई जहाज द्वारा लैम्बासिंगी कैसे पहुंचें – How To Reach Lambasingi By Flight In Hindi

यदि आप फ्लाइट से सफ़र करके लाम्बासिंगी घूमने जाना चाहते है तो हम आपको बता दे लाम्बासिंगी का निकटतम एयरपोर्ट विशाखापट्टनम हवाई अड्डा है जो लाम्बासिंगी से लगभग 107 की दूरी पर स्थित है। यह हवाई अड्डा कई घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय एयरलाइंस से जुड़ा हुआ है। एयर कोस्टा, एयर इंडिया, स्पाइसजेट, इंडिगो और जेट एयरवेज जैसी प्रमुख एयरलाइंस बैंगलोर, चेन्नई, मुंबई, दिल्ली, तिरुपति, हैदराबाद और कोलकाता के लिए नियमित उड़ानें प्रदान करती हैं, जबकि सिंगापुर और कुआलालंपुर जैसे विदेशी शहरों से भी उड़ानें उपलब्ध हैं। हवाई अड्डा पहुचने के बाद आप बस या टेक्सी बुक करके लाम्बासिंगी पहुच सकते है।

सड़क मार्ग से लैम्बासिंगी कैसे पहुंचें How To Reach Lambasingi By Road In Hindi

सड़क मार्ग से लैम्बासिंगी कैसे पहुंचें – How To Reach Lambasingi By Road In Hindi

विशाखापट्टनम में सड़क मार्ग द्वारा विभिन्न शहरों और कस्बों के साथ अच्छी सड़क कनेक्टिविटी है। यहां हैदराबाद, चेन्नई, कोलकाता, विजयवाड़ा और पुरी सहित अन्य शहरों से राज्य परिवहन और निजी बसें आती हैं। NH 5 विशाखापत्तनम को कोलकाता से जोड़ता है। आप राज्य परिवहन या निजी संचालित बसों से यात्रा करके पहले विशाखापट्टनम जा सकते है और फिर विशाखापट्टनम से लाम्बासिंगी जा सकते हैं। इसके अलावा अपने निजी वाहन से लाम्बासिंगी की यात्रा करना एक आरामदायक विकल्प साबित हो सकता है।

ट्रेन से लांबासिंगी कैसे पहुंचें – How To Reach Lambasingi By Train In Hindi

ट्रेन से लैम्बासिंगी कैसे पहुंचें – How To Reach Lambasingi By Train In Hindi

यदि आपने लाम्बासिंगी की यात्रा के लिए रेल मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दे लाम्बासिंगी का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन विशाखापत्तनम रेलवे स्टेशन (Junction) है, जो लाम्बासिंगी से लगभग 115 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। विशाखापत्तनम रेलवे स्टेशन कई प्रमुख भारतीय शहरों से जुड़ा हुआ है। इस जंक्शन पर नई दिल्ली, हैदराबाद, बैंगलोर, चेन्नई और कोलकाता से ट्रेनें आती हैं। हैदराबाद से जन्मभूमि एक्सप्रेस (janmabhoomi express) और कोणार्क एक्सप्रेस, दिल्ली से समता एक्सप्रेस, चेन्नई से ईस्ट कोस्ट एक्सप्रेस और बंगलौर से प्रशांति एक्सप्रेस कुछ बेहतरीन ट्रेनें हैं। रेलवे स्टेशन के बाहर से बस, कैब (cab) या फिर टैक्सी से आप अपने गंतव्य स्थल तक पहुंच सकते हैं।

और पढ़े : आन्ध्र प्रदेश राज्य का इतिहास और अन्य जानकारी

लांबासिंगी के मेप – Lambasingi Map In Hindi

और पढ़े :

Leave a Comment