Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Barot Valley In Hindi, हिमाचल प्रदेश में मंडी जिले की शांत घाटियों में स्थित बड़ौत एक खूबसूरत गाँव है। यह एक नया पाया गया पर्यटन स्थल है और मंडी से लगभग 67 किलोमीटर दूर स्थित है। अगर आप एक या दो दिन घूमने की कोई जगह तलाश रहे हैं तो यह जगह आपके लिए बहुत अच्छी है। यहाँ के मनोरम दृश्य और अनपेक्षित हवा दुनिया भर के यात्रियों को यहाँ दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए आकर्षित करती है। यह जगह ट्रेकर्स के लिए स्वर्ग के सामान है।

क्योंकि यह स्थान अपने कई ट्रेकिंग ट्रेल्स के लिए गाँव से होकर गुजरता है और इसलिए यह एक पसंदीदा ट्रेकिंग स्थल भी है। बहुत कम पर्यटक ऐसे हैं जो बारोट वैली और इसके छुपे हुए परिदृश्यों के बारे में जानते हैं। बड़ौत गाँव तब सुर्खियों में आया जब शानन जलविद्युत परियोजना भारत में 1920 के आसपास प्रस्तावित की गई थी। यह परियोजना उहल नदी की पनबिजली क्षमता का उपयोग करने के लिए शुरू की गई थी जो बरोट और जोगिंद्रनगर के बीच स्थित है। तभी से यह गाँव भी एक पर्यटन स्थल के रूप में माना जाता है, लेकिन बहुत से लोग इस जगह के बारे में नहीं जानते हैं।

1. बड़ौत घाटी घूमने के साथ साथ क्या क्या कर सकते है – Things To Do In Barot Valley In Hindi

1.1 उहल नदी में मछली पकड़ना – Fishing In Uhl River In Hindi

उहल नदी में मछली पकड़ना

बड़ौत घाटी में पर्यटकों के लिए करने के लिए बहुत कुछ है। आपको बता दें कि यहाँ पर उहल नदी में मछली पकड़ना बरोट में लोकप्रिय है। ट्राउट प्रजनन केंद्र इसे मछली पकड़ने के लिए के लिए एक आदर्श जगह बनाते हैं। बात दें कि इस उद्देश्य के लिए यहाँ पर 30 किलोमीटर से अधिक नदी का उपयोग किया जाता है।

1.2 नारगू वन्यजीव अभयारण्य – Nargu Wildlife Sanctuary In Hindi

नारगू वन्यजीव अभयारण्य

नारगू वन्यजीव अभयारण्य उहल नहीं के पार स्थित है जो जो सांत्वना की खोज करने वाले लोगों के लिए भी एक शानदार पिकनिक स्थल है। नारगू वन्यजीव अभयारण्य विभिन्न प्रकार के वनस्पतियों और जीवों का घर है। यहाँ पर पर्यटक अभ्यारण्य को एक्स्प्लोर करके पानी यात्रा का पूरा मजा ले सकते हैं।

और पढ़े: चैल वन्यजीव अभयारण्य की जानकारी और पर्यटन स्थल 

1.3 मनोरंजनात्मक ट्रेकिंग – Recreational Trekking In Hindi

मनोरंजनात्मक ट्रेकिंग

ट्रेक के लिए बड़ौत घाटी के आस-पास के बहुत से मार्ग पसंद किए जाते हैं। मुल ट्रेल के साथ बरोट हिम्री ट्रेक काफी प्रसिद्ध है। सर्दियों के मौसम के दौरान बहुत से पर्यटक विशेष रूप से स्नो ट्रेकिंग के लिए बारोट जाते हैं।

1.4 कॉरपोरेट एंड फैमिली कैंपिंग – Corporate And Family Camping In Hindi

कॉरपोरेट एंड फैमिली कैंपिंग

बरोट घाटी के पास उहल नदी के किनारे कैंपिंग यहाँ का का एक प्रमुख आकर्षण है। अगर आप शहर की भीड़-भाड़ से दूरी बनाना चाहते हैं तो आप इसके लिए परिवार के लोगों के साथ वीकेंड पर यहाँ कैम्पिंग का मजा ले सकते हैं।

1.5 तारे देखना (स्टार गेजिंग) – Star Gazing In Hindi

तारे देखना (स्टार गेजिंग)

बहुत से पर्यटक और यात्री बारोट एक आश्चर्यजनक स्टार गेजिंग अनुभव प्राप्त करने के लिए भी जाते हैं। बता दें कि यह गाँव शहर से काफी दूर है और घाटी के बीच स्थित है, इसलिए बहुत से खगोलविद और स्टारगेजर यहाँ पर आते हैं।

2. बारोट घूमने के लिए टिप्स – Tips For Visiting Barot In Hindi

बारोट घूमने के लिए टिप्स

  1. यात्रा के लिए जाने से पहले रुकने के लिए कमरे को पहले से बुक कर लें और अपने ठहरने की पुष्टि कर लें।
  2. हमेशा ट्रेकिंग और कैम्पिंगसमूहों में करें।
  3. प्राथमिक चिकित्सा किट, पानी और स्नैक्स सहित आवश्यक शिविर और ट्रेकिंग गियर ले जाना न भूलें।
  4. यहाँ की जलवायु ज्यादातर ठंडी और सर्द होती है, इसलिए अपने साथ पर्याप्त गर्म कपड़े ले जाएं।

और पढ़े: स्पीति घाटी घूमने की जानकारी और आकर्षक स्थल

3. बड़ौत घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Barot In Hindi

बड़ौत घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

बड़ौत की यात्रा का सबसे अच्छा समय अप्रैल और जून के बीच है, गर्मियों के दौरान और नवंबर और फरवरी के बीच सर्दियों का मौसम इस पर्यटन स्थल ही यात्रा और घाटी को एक्स्प्लोर करने के लिए बहुत अच्छा है।

4. बड़ौत में मशहूर रेस्तरां और स्थानीय भोजन – Restaurants And Local Food In Barot In Hindi

बड़ौत में मशहूर रेस्तरां और स्थानीय भोजन

मंडी के पास स्थित हिमचल प्रदेश का एक छोटा शहर होने के साथ ही बड़ौत में खाने के लिए कई कई रेस्तरां, ढाबे उपलब्ध हैं जिनमें आप कई तरह के व्यजनों का स्वाद ले सकते हैं। इसके साथ ही यहाँ रेस्टोरेंट्स में बहु व्यंजनों वाली थालियाँ भी उपलब्ध हैं।

5. बड़ौत घाटी के आस पास के प्रमुख पर्यटन और आकर्षण स्थल – Best Tourist Attraction Near Barot Valley In Hindi

अगर आप बड़ौत घाटी के अलावा इसके आसपास के पर्यटन स्थलों की सैर करना चाहते हैं तो नीचे दी गई जानकारी को जरुर पढ़ें, यहाँ हम आपको बड़ौत घाटी के पास प्रमुख के पर्यटन स्थलों के बारे में बताने जा रहे हैं।

5.1 प्रशार झील ट्रेक – Prashar Lake Trek In Hindi

प्रहार झील ट्रेक

प्रशार झील ट्रेक हिमाचल प्रदेश के सबसे ऑफबीट जगहों में से एक है जो मंडी से लगभग 50 किमी दूर स्थित एक क्रिस्टल क्लियर वाटर बॉडी है। जहाँ पर एक तीन मंजिला शिवालय है, जो ऋषि प्रशार को समर्पित है। यह झील अपने गहरे नीले पानी के साथ समुद्र तल से 2730 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। कुल्लू घाटी में शक्तिशाली धौलाधार पर्वतमाला से घिरा यह क्षेत्र रहस्यमय आकर्षण से भरा हुआ है और यहाँ से नीचे बहती हुई ब्यास नहीं का आकर्षण दृश्य दिखाई देता है। यहाँ की बर्फ से घिरी चोंटियां, हरी-भरी घाटियाँ, नदियाँ और झीलें इसे एक बेहतरीन ट्रेकिंग अनुभव प्रदान करती हैं। बड़ौत घाटी से प्रशार झील की दूरी 105 किलोमीटर है।

और पढ़े: रिवालसर झील की जानकरी और पर्यटन स्थल

5.2 मंदिर भूतनाथ मंदिर – Bhutnath Temple In Hindi

मंदिर भूतनाथ मंदिर

भूतनाथ मंदिर मंडी में स्थित एक प्रमुख धार्मिक स्थल है जिसकी आध्यात्मिकता 1520 के दशक की है। यह मंदिर उतना ही पुराना है जितना पुराना यह शहर है। भूतनाथ मंदिर मंडी शहर के केंद्र में स्थित है और यह भगवान् शिव को समर्पित है। यहाँ आने वाले पर्यटक और तीर्थ यात्री भगवान शिव के बैल नंदी को देखेंगे जो परिसर के बाहर स्थित है। मार्च के महीने में यहाँ पर शिव रात्रि का त्यौहार बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है। यह इस कस्बे और मंदिर का प्रमुख त्यौहार है। बड़ौत घाटी से भूतनाथ मंदिर की दूरी 67 किलोमीटर है।

5.3 सुंदर नगर – Sundernagar In Hindi

सुंदर नगर मंडी, mandi in hindi

सुंदर नगर शहर पूर्व में स्थित एक रियासत थी जिसको सुकेत के नाम से जाना जाता था। इस छोटे से शहर का प्रमुख आकर्षक सुंदरता को ब्यास-सतलज परियोजना के पानी द्वारा निर्मित मानव निर्मित झील है। आपको बता दें कि यह परियोजना भारत की सबसे बड़ी हाइडल परियोजना है। सुंदर नगर की प्राकृतिक सुंदरता छायादार और ऊंचे ऊंचे पेड़ पर्यटकों को बेहद आकर्षित करते है। सर्दियों में यहाँ एक दम हरियाली हो जाती है। भले ही सुंदरनगर एक छोटा शहर है लेकिन यह मन और आत्मा को सुकून प्रदान करता है। बड़ौत घाटी से सुंदर नगर की दूरी 89 किलोमीटर है।

और पढ़े: सुंदर नगर की जानकारी और पर्यटन स्थल

5.4 जंझली – Janjehli In Hindi

जंझली

जंझली ट्रेकिंग जैसी गतिविधियों के लिए एक आदर्श जगह है। 3300 मीटर तक की पगडंडी के साथ यह स्थान मंडी से लगभग 67 किमी दूर है। जंझली जाने के लिए आप गोहर तक वाहन से 32 किलोमीटर की यात्रा कर सकते हैं, और इसके बाद पैदल यात्रा कर सकते हैं।

5.5 कमलाह फोर्ट – Kamlah Fort In Hindi

कमलाह फोर्ट

कमलाह फोर्ट मंडी शहर से लगभग 80 किमी दूर स्थित सिकंदर धार पर्वतमाला पर खड़ा हुआ है। इस किले का निर्माण 1625 में राजा सूरज सेन द्वारा किया गया था जो 4772 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। किले के प्रवेश द्वार के आसपास के हरे-भरे परिदृश्य देखने लायक है। बड़ौत घाटी से कमलाह किला की दूरी 114 किलोमीटर है।

और पढ़े: टारना मंदिर की जानकारी और पर्यटन स्थल

5.6 कामरू नाग झील – Kamrunag Lake In Hindi

कामरू नाग झील

कामरू नाग झील मंडी-करसोग मार्ग पर 3334 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है पर्यटकों और ट्रेकिंग के लिए एक खास जगह है। बर्फ से ढके धौलाधार और बाहु घाटी से घिरी झील बेहद आकर्षक नज़र आती है। कामरू नाग झील मंदिर हरे भरे जंगल के घने आवरण से घिरा हुआ है। झील के निकट एक कामरू नाग मंदिर हरे भरे जंगल के घने आवरण से घिरा हुआ है। बड़ौत घाटी से कमरुनाग झील तक की दूरी 121 किलोमीटर है।

5.7 शिकारी देवी मंदिर – Shikhari Devi Temple In Hindi

शिकारी देवी मंदिर

शिकारी देवी मंदिर मंडी से 15 किमी दूर स्थित, समुद्र तल से 3332 मीटर की ऊंचाई पर स्थित एक प्रसिद्ध स्थल है जो ट्रैकिंग के लिए काफी रोमांचक है। अगर आप आप सूर्योदय या सूर्यास्त के देखना पसंद करते हैं तो यह जगह आपके लिए बहुत खास साबित हो सकती है। बड़ौत घाटी से शिकारी देवी मंदिर की दूरी 155 किलोमीटर है।

5.8 चिंदी – Chindi In Hindi

चिंदी

चिंदी शहर की भीड़ भाड़ से दूर छोटा सा गाँव है जो प्रकृति की गोद में चुपचाप बैठा है। यहाँ गाँव में प्राकृतिक सुंदरता और यहाँ स्थित कई छोटे मंदिरों के लिए जाना जाता है। मंडी से 107 किलोमीटर दूर स्थित, यह स्थान तत्तापानी के माध्यम से आसानी से पहुँचा जा सकता है। बड़ौत घाटी से चिंदी की दूरी 158 किलोमीटर है।

5.9 तत्तापानी – Tattapani In Hindi

तत्तापानी

तत्तापानी हिमाचल प्रदेश में एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। बता दें कि यह एक विचित्र क्षेत्र है, जो किसी वंडरलैंड से कम नहीं है। तत्तापानी पर्यटन शिमला शहर से करीब 60 किलोमीटर की दूरी पर एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल है जो कई आकर्षणों को को संग्रहीत करता है। पहाड़ों के बीच बसे इस खूबसूरत पर्यटन स्थल को आप कभी मिस नहीं करना चाहेंगे। तत्तापानी में मंदिर, गुफाएं, घास के मैदान, गर्म पानी के झरने जैसे आकर्षण के अलावा ट्रेकिंग, रिवर राफ्टिंग और रॉक क्लाइम्बिंग जैसे एडवेंचर खेल भी शामिल हैं। सतलुज नदी और हरी भरी घाटी के साथ शांत वातावरण में पैदल चलता आपके थके हुए दिमाग को शांति प्रदान करता है। तत्तापानी, बड़ौत घाटी से 192 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

और पढ़े: भारत में रिवर राफ्टिंग करने की 10 खास जगह 

5.10 भीमा काली मंदिर – Bhima Kali Temple In Hindi

भीमा काली मंदिर

भीमा काली मंदिर देवी भीमा काली को समर्पित मंडी शहर के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। ब्यास नदी के तट पर स्थित, यह मंदिर एक संग्रहालय में विभिन्न देवी-देवताओं की मूर्तियों को भी प्रदर्शित करता है। बता दें कि यह वही स्थल है जहाँ पर भगवान् कृष्ण ने बाणासुर नाम के राक्षस से युद्ध किया था। बड़ौत घाटी से भीमा काली मंदिर की दूरी 266 किलोमीटर है।

और पढ़े: मंडी घूमने की जानकारी और पर्यटन स्थल 

6. बड़ौत कैसे पहुँचे – How To Reach Barot In Hindi

बड़ौत जोगिंद्रनगर शहर से 40 किलोमीटर और मंडी से 66 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। मंडी, जोगिन्दरनगर, और पालमपुर से बड़ौत पहुँचने के लिए पर्यटक सार्वजनिक बस भी ले सकते हैं। कोठीकोड, बडा ग्रान और लुहारडी के लिए भी कई बसें चलती हैं जो बड़ौत से गुजरती हैं। बड़ौत का निकटतम रेलवे स्टेशन जोगिंद्रनगर रेलवे स्टेशन है। यात्री जंक्शन से सार्वजनिक परिवहन से बरोट की हरे-भरे घाटियों तक लगभग 2 घंटे में NH154 के माध्यम से पहुंच सकते हैं।

अगर आप हवाई यात्रा करना चाहते हैं तो बता दें कि निकटतम हवाई अड्डा कुल्लू मनाली हवाई अड्डा है जो बरोट से लगभग 3।5 घंटे की दूरी पर है। पर्यटक NH154 और NH3 के माध्यम से घाटी तक पहुंचने के लिए सार्वजनिक परिवहन या किराए पर ले सकते हैं।

6.1 फ्लाइट से बड़ौत कैसे पहुंचे – How To Reach Barot By Flight In Hindi

फ्लाइट से बड़ौत कैसे पहुंचे

मंडी का निकटतम हवाई अड्डा भुंतर (60 किमी) में स्थित है। भुंतर हवाई अड्डे से आप मंडी के लिए टैक्सी किराए पर ले सकते हैं और अपने पर्यटन स्थल पर पहुँच सकते हैं।

6.2 सड़क मार्ग से बड़ौत तक कैसे पहुंचे – How To Reach Barot By Road In Hindi

सड़क मार्ग से बड़ौत तक कैसे पहुंचे

एचआरटीसी की बस सेवा दिल्ली, पंजाब और हरियाणा जैसे पड़ोसी शहरों और राज्यों से आसानी से उपलब्ध है। दिल्ली शहर से मंडी लगभग 400 किमी दूर है।

6.3 ट्रेन से बड़ौत कैसे पहुंचे – How To Reach Barot By Train In Hindi

ट्रेन से बड़ौत कैसे पहुंचे

मंडी के लिए शहर का निकटतम ब्रॉड गेज रेलहेड पठानकोट (210 किमी) है जो गेज जोगिंदर नगर रेलहेड से जुड़ा हुआ है और मंडी से 55 किमी दूर है। बस या कैब से आप रेलवे स्टेशन से अपने पर्यटन स्थल तक पहुँच सकते हैं।

और पढ़े: हिमाचल प्रदेश के 10 सबसे खास पर्यटन स्थल

7. बड़ौत का नक्शा – Barot Map

8. बड़ौत की फोटो गैलरी – Barot Images

और पढ़े:

Write A Comment