Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Angkor Wat Ka Mandir, अंगकोर वाट उत्तरी कंबोडिया में दुनिया के सबसे बड़े स्मारकों में से एक है। यह एक बहुत ही प्रसिद्ध बौद्ध मंदिर और अंगकोर पुरातात्विक पार्क (Angkor Archaeological Park) का एक प्रमुख आकर्षण है। आपको बता दें कि यह सिएम रीप(Siem-Reap) से 6 किलोमीटर उत्तर में स्थित अंगकोर के खंडहर का प्रवेश द्वार माना जाता है। बता दें कि यह मंदिर कंबोडिया में काफी लोकप्रिय है और आप इसकी इमेज देश के राष्ट्रीय ध्वज पर भी देख सकते हैं। अंकोरवाट मंदिर अंगकोर शहर में स्थित है, जिसे 12 वीं शताब्दी में खमेर साम्राज्य के राजा सूर्यवर्मन द्वितीय ने बनवाया था। अंगकोर पुरातात्विक पार्क 400 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है, जो इसे दुनिया का सबसे बड़ा पूर्व-औद्योगिक शहर बनाता है। अंगकोर एक अच्छी तरह से स्थापित शहर था, और मंदिर उस समृद्ध शहर का एक हिस्सा थे। अगर आप अंगकोर वाट के बारे में अन्य जानकारी चाहते हैं तो इस लेख को अवश्य पढ़ें यहां हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने जा रहें हैं।

1. अंगकोर वाट मंदिर का इतिहास – Angkor Wat Temple History In Hindi

अंगकोर वाट मंदिर का इतिहास

अंगकोर वाट के इतिहास की बात करें तो बता दें कि 1113 और 1150 A.D के बीच 500 एकड़ के क्षेत्र को शामिल किया गया है। आज यह स्मारक कंबोडिया में अब तक के निर्मित सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्मारकों में से एक है। अंगकोर वाट मंदिर को 12 वीं शताब्दी के पूर्वार्द्ध के दौरान तत्कालीन सम्राट सूर्यवर्मन द्वितीय के आदेश पर बनाया गया था। आपको बता दें कि यह आकर्षक मंदिर मूल रूप से भगवान विष्णु को समर्पित एक मंदिर था जिसके बाद धीरे-धीरे 14 वीं शताब्दी में एक हिंदू पूजा स्थल से एक बौद्ध मंदिर में बदल गया। आज भी इस मंदिर का असली नाम अज्ञात है क्योंकि यहां उस समय का कोई शिलालेख प्राप्त नहीं हुआ।

2. अंकोरवाट के मंदिर की वास्तुकला – Angkor Wat Architecture In Hindi

अंकोरवाट के मंदिर की वास्तुकला

अंकोरवाट मंदिर एक आकर्षक संरचना है जिसमें नुकीले टॉवर जो आधार से उठे हुए हैं। यह संरचना 12 वीं शताब्दी के खमेर वास्तुकला का उत्कृष्ट उदाहरण हैं। इसका निर्माण बलुआ पत्थर द्वारा किया गया है। आपको बता दें कि अंकोरवाट में वाट का अर्थ थाई में मंदिर होता है। लेकिन इस संरचना के पूर्व-पश्चिम अभिविन्यास में मंदिरों का महत्व है। कई विद्वानों का ऐसा मानना है कि मंदिर का निर्माण सूर्यवर्मन ने अपने अंतिम विश्राम स्थल के लिए करवाया था। अंकोरवाट मंदिर में एक 65 मीटर केंद्रीय टॉवर है जो चार छोटे टॉवरों और बाड़े की दीवारों की एक श्रृंखला से घिरा हुआ है।

और पढ़े: साँची स्तूप घूमने की जानकारी और इसके पर्यटन स्थल

3. अंकोरवाट मंदिर घूमने के लिए समय की आवश्यकता- Time Required To Explore Angkor Wat Ka Mandir In Hindi

वैसे तो पर्यटक एक दिन में भी अंकोरवाट और इसके आसपास के क्षेत्र को एक्सप्लोर कर सकते हैं लेकिन अगर वे अच्छे से अंकोरवाट के साथ पूरे पार्क को घूमना चाहते है तो इसमें 2 से 3 दिनों का समय लग सकता है।

4. अंगकोर वाट मंदिर का प्रवेश शुल्क – Angkor Wat Temple Ticket Price In Hindi

अंगकोर वाट मंदिर का प्रवेश शुल्क

अगर कोई विदेशी पर्यटक अंगकोर वाट घूमने के लिए जा रहा है तो इसके लिए उसे एक प्रवेश पास खरीदने की आवश्यकता होती है। यह पास केवल आधिकारिक टिकट केंद्र से ही प्राप्त किया जा सकता है जो कि सिएम रीप शहर से 4 किलोमीटर दूर स्थित है। टिकट केंद्र रोजाना सुबह 5:00 बजे से शाम 5:30 बजे तक खुला रहता है। प्रवेश टिकट का भुगतान या तो नकद (अमेरिकी डॉलर, कंबोडियन रिअल, थाई उत्कृष्टता या यूरो) द्वारा किया जा सकता है या फिर इसके लिए पर्यटक क्रेडिट कार्ड द्वारा का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

  • 1-दिन: 37 डॉलर (एक दिन के लिए पास)
  • 3-दिन: 62 डॉलर (दस दिनों के लिए वैध है)
  • 7-दिन: 72डॉलर (एक महीने के लिए वैध है)

5. कंबोडिया के अंकोरवाट मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Angkor Wat Ka Mandir In Hindi

कंबोडिया के अंकोरवाट मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

अगर आप कंबोडिया में स्थित अंगकोर वाट मंदिर जाने की योजना बना रहें हैं तो बता दें कि यहां जाने का सबसे अच्छा समय नवंबर से फरवरी के बीच होगा है, क्योंकि यह मौसम बहुत ज्यादा गर्म नहीं होता और इसमें ज्यादा बारिश भी नहीं होती।सूर्योदय के दौरान अंकोरवाट शानदार बेहद शानदार नजर आता है। आप इस मंदिर को सुबह 5:30 से 6:00 बजे तक देखने जा सकते हैं और ।सूर्योदय के साथ मंदिर के आकर्षक दृश्य को देख सकते हैं। अगर आप मंदिर की यात्रा कर रहें हैं तो अपने साथ कैमरा जरुर लेकर जाएं।

और पढ़े: बोधगया दर्शनीय स्थल का इतिहास और यात्रा 

6. अंगकोर वाट जाने के लिए क्या पहने – What To Wear During Visit Ankur Wat Temple In Hindi

अंगकोर वाट जाने के लिए क्या पहने

आपको बता दें कि अंगकोर वाट का एक ड्रेस कोड है जिसका पालन करना आवश्यक है। यह स्थान पूरे वर्ष गर्म रहता है, इसलिए आपको हल्के कपड़े पहनने चाहिए। इस बात का ध्यान रखें कि आप को भी पहन रहें हैं वो आपके कंधो और घुटनों को जरुर कवर करें। अगर आप धूप में मंदिर देखने जा रहें हैं तो अपने साथ एक कैप जरुर ले जाएँ।

7. अंगकोर वाट कंबोडिया कैसे पहुंचें – How To Reach Angkor Wat Ka Mandir In Hindi

अंगकोर वाट कंबोडिया कैसे पहुंचें

अंगकोर वाट का मंदिर सिएम रीप में स्थित है। कुछ अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों से आप सिएम रीप अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए फ्लाइट ले सकते हैं। अगर आप लाओस, थाईलैंड या वियतनाम से कंबोडिया में प्रवेश कर रहे हैं तो आप सड़क मार्ग द्वारा या बस की मदद से भी यहां पहुंच सकते हैं। सिएम रीप के लिए वर्तमान में कोई रेल सेवा उपलब्ध नहीं है।

8. भारत से अंगकोर वाट कैसे पहुंचे – How To Reach Siem Angkor Wat Temple In Hindi

भारत से अंगकोर वाट कैसे पहुंचे

भारत से सिएम रीप के लिए कोई सीधी उड़ान उपलब्ध नहीं है। बैंकॉक और कुआलालंपुर के माध्यम से जेट एयरवेज, सिंगापुर एयरलाइंस, सिल्क एयर, थाई एयरवेज और एयरलाइंस सिंगापुर जैसी कनेक्टिंग फ्लाइट उपलब्ध हैं, जिनकी मदद से आप सिएम स्टेप तक पहुंच सकते हैं।

और पढ़े: वियतनाम पर्यटन के रात के जीवन की कुछ रोचक जानकारी

9. सिएम रीप में भारतीयों के लिए भोजन – Food For Indians In Siem Reap In Hindi

सिएम रीप में भारतीयों के लिए भोजन

सिएम रीप में कई रेस्तरां हैं जहां पर पर्यटक भारतीय व्यंजन का स्वाद ले सकते हैं। यदि आप कंबोडिया की यात्रा के दौरान केरेला के स्वाद को याद कर रहे हैं, तो बस अंगकोर कॉम्प्लेक्स से कुछ कदम दूर अंगकोर न्यू इंडिया रेस्त्रां (Angkor New India Restaurant) जा सकते हैं जो सुबह 07:00 से 16:00 तक खुला रहता है। इसके अलावा अन्य रेस्तरां में फ्लेवर्स ऑफ इंडिया, करी वाला और वानाक्कम इंडिया रेस्तरां शामिल हैं। अगर आप शाकाहारी भोजन का स्वाद लेना चाहते हैं तो तो चुस्का (Chusska) सही जगह है, जहाँ पर आप शुद्ध शाकाहारी भोजन का स्वाद ले सकते हैं।

10. अंकोरवाट टेम्पल के बारे में पूछे गए सवाल – Frequently Asked Question About Angkor Wat Mandir In Hindi

10.1 अंगकोर वाट के मंदिर का निर्माण किस शासक के द्वारा करवाया गया – Ankur Wat Ke Mandir Ka Nirman Kis Shasak Ke Dwara Karaya Gaya In Hindi

अंगकोर वाट मंदिर का निर्माण 12 वीं शताब्दी के पूर्वार्द्ध के दौरान तत्कालीन सम्राट सूर्यवर्मन द्वितीय के आदेश पर बनाया गया था।

10.2 अंगकोर वाट के स्मारक किस देश में स्थित है – Angkor Wat Ka Mandir Kahan Sthit Hai In Hindi

अंगकोर वाट का मंदिर कंबोडिया के करोंग सीएम रेआप शहर में स्थित है ।

10.3 अंकोरवाट मंदिर कौन से धर्म का मंदिर है – What Religion Is Angkor Wat In Hindi

अंकोरवाट टेम्पल हिन्दू धर्म का मंदिर हुआ करता था, बाद में इसे बोध्य धर्म का तीर्थ स्थल बना दिया गया ।

और पढ़े: भारतीय पासपोर्ट धारकों के लिए कंबोडिया वीजा ऑन अराइवल

11. अंकोरवाट मंदिर कंबोडिया का नक्शा – Angkor Wat Temple Cambodia Map

12. अंकोरवाट मंदिर की फोटो गैलरी – Ankur Wat Mandir Images

View this post on Instagram

Temple run 🏃‍♀️

A post shared by Jobelle Inovero (@itsjodih) on

और पढ़े:

Write A Comment