Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages
Tag

Shillong tourism in hindi

Browsing

Nohsngithiang Falls In Hindi, नोहशंगथियांग फॉल्स चेरापूंजी से लगभग 4 किमी दूर स्थित एक आकर्षक झरना है जो भारत जिसका नाम भारत के सबसे ऊंचे झरनों की लिस्ट में शामिल है। नोहशंगथियांग फॉल्स चेरापूंजी में एक प्रमुख पर्यटन स्थल है, जिसे देखने के लिए भारी संख्या में पर्यटक यहां की यात्रा करते हैं। नोहशंगथियांग फॉल्सह मेघालय के पूर्वी खासी हिल्स जिले के मावसई गाँव में स्थित है, जिसकी वजह से इसे मावसई जलप्रपात भी कहा जाता है। आपको बता दें कि नोहशंगथियांग फॉल्स का पानी लगभग 1033 फीट की ऊंचाई से गिरता है, जो सात अलग-अलग भागों विभाजित होता है। इसलिए इस झरने को सेवन सिस्टर फॉल्स भी कहा जाता है। आपको बता दें कि इस वाटरफॉल का दृश्य मौसमी है जोर केवल बरसात के मौसम में चूना पत्थर से ढकी पहाड़ियों के ऊपर देख जा सकता है।

शिलांग पर्यटन स्थल मेघालय की राजधानी हैं। यह देश का ऐसा पहला ऐसा हिल स्टेशन हैं जहां चारों तरफ से जा सकते हैं। शिलांग का नाम एक शक्तिशाली देवता U-Shyllong के नाम पर रखा गया हैं। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई लगभग 1,491 मीटर और गुवाहाटी से शिलांग की दूरी लगभग 100 किलोमीटर हैं। शिलांग हिल स्टेशन को बादलो का निवास स्थान भी कहां जाता है। अपनी रमणीय पहाड़ियों के कारण इसे “पूर्व का स्कॉटलेंड” भी कहां जाता हैं। इसका सबसे उच्तम बिंदु 6,449 फीट उंचा हैं। 2011 की जनगणना के अनुसार शिलांग भारत में सबसे अधिक आबादी वाला 330 वां शहर था। यदि आप शिलांग के पर्यटन स्थल घूमने की ख्वाइश रखते हैं और इसके बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े।