Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages
Tag

seven sisters name in hindi

Browsing

Guwahati Tourist places In Hindi, गुवाहाटी विशाल ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे पर बसा हुआ पूर्व-उत्तर भारत में असम का सबसे बड़ा नगर हैं। प्राचीन समय में गुवाहाटी को प्रागज्योतिस्वर नाम से जाना जाता था। गुवाहाटी दो शब्दों गुवा और हाट से मिलकर बना हैं, जिसमे गुवा का अर्थ है सुपारी और हाट का अर्थ बाजार। गुवाहाटी शहर को “नॉर्थ ईस्ट इंडिया की सेवन सिस्टर्स” का प्रवेश द्वार भी कहते हैं। गुवाहाटी में प्राचीन मंदिर की संख्या बहुत अधिक हैं और प्रत्येक मंदिर की कोई न कोई दिलचस्प कहानी सुनने को मिलती हैं जोकि आपको इतिहास के पन्ने पलटने पर मजबूर कर देती हैं।

Places To Visit In Tripura In Hindi अगर आप छुट्टियों में झरनों, विस्मय पहाड़, घने जंगलों, इतिहास और परंपरा का आनंद लेना चाहते हैं तो त्रिपुरा से अच्छी जगह कोई नहीं है। उत्तर पूर्व के सात बहनो के राज्यों में से एक त्रिपुरा की राजधानी अगरतला है, जिसे अक्सर मणिपुर और मिजोरम के साथ समान रूप से संदर्भित किया जाता है। देश का तीसरा सबसे छोटा राज्य होने के नाते और अद्भुत विरासत समेटे हुए त्रिपुरा एक सुंदर पर्यटन स्थल है। हिमालय पर्वतों के तल पर बसे इस भूमि पर स्थित त्रिपुरा के पीछे एक लंबी ऐतिहासिक विरासत है। त्रिपुरा कभी प्रसिद्ध माण्क्यि जनजाति का घर था। जिसका परिणाम है कि राज्य में विभिन्न पुरातात्विक स्मारकों और संरचनाएं देखने को मिलती हैं। त्रिपुरा आधुनिक बंगाली संस्कृति के साथ पारंपरिक आदिवासी संस्कृति के अनूठे मिश्रण को दर्शाता है।

Seven Sisters Of India In Hindi पूर्वोत्तर भारत में सात राज्य हैं। जिन्हें ‘सात बहनें’ या ‘सेवन सिस्टर्स’ के नाम से जाना जाता है। उत्तर पूर्व भारत को इनके एक दूसरे पर परस्पर निर्भरता के कारण आम तौर पर “सात बहनों की भूमि” के रूप में जाना जाता है। सेवन सिस्टर्स में अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, मणिपुर, मिजोरम, नागालैंड और त्रिपुरा को मिला कर सात राज्यों को यह नाम दिया गया है।

ये राज्य एक दुसरे पर परस्पर निर्भर करते हैं। त्रिपुरा बांग्लादेश से घिरा एक घेरे की तरह है जो असम पर परिवहन के लिए निर्भर करता है। असम में बाढ़ वाली सभी नदियां अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड से निकलती हैं। मिजोरम और मणिपुर असम के बराक घाटी के माध्यम से भारत के बाकि हिस्सों से जुड़े हुए हैं। इस परस्पर निर्भरता के कारण, उन्हें ज्योति प्रसाद साइकिया (असम के एक सिविल सेवक) द्वारा “सात बहनों की भूमि” को उपनाम दिया गया।