अमरनाथ गुफा का इतिहास और कहानी - Amarnath Cave In Hindi

अमरनाथ गुफा का इतिहास और कहानी – Amarnath Cave History And Story In Hindi

Amarnath Cave In Hindi, अमरनाथ मंदिर या अमरनाथ गुफा भगवान शिव के भक्तों के लिए सबसे प्रमुख तीर्थ स्थान है जो भगवान शिव की प्राकृतिक रूप से बर्फ से निर्मित शिवलिंग के लिए प्रसिद्ध है। इस धार्मिक स्थल की यात्रा करने के लिए हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक जाते हैं जिसे अमरनाथ यात्रा के नाम से जाना जाता है।

Read moreअमरनाथ गुफा का इतिहास और कहानी – Amarnath Cave History And Story In Hindi

केदारनाथ मंदिर के दर्शन और यात्रा की पूरी जानकारी - Kedarnath Temple In Hindi

केदारनाथ मंदिर के दर्शन और यात्रा की पूरी जानकारी – Kedarnath Temple Information In Hindi

Kedarnath Temple In Hindi, केदारनाथ मंदिर, भारत के उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में गढ़वाल हिमालय पर्वतमाला पर स्थित सबसे प्रसिद्ध और पवित्र हिंदू मंदिरों में से एक है। केदारनाथ मंदिर उत्तराखंड में ‘छोटा चार धाम यात्रा’ का एक हिस्सा है। यह मंदिर 3,583 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है जो देश की 12 ज्योतिर्लिंगों में सबसे ऊंचा है और भगवान शिव को समर्पित है। केदारनाथ मंदिर अपने सामने बहने वाली मंदाकिनी नदी के साथ बर्फ से ढके और ऊंचे पहाड़ों के बीच स्थित होने की वजह से लाखों श्रद्धालुओं को अपनी तरफ आकर्षित करता है। वर्तमान केदारनाथ मंदिर का निर्माण आदि शंकराचार्य द्वारा किया गया है और इसे मूल रूप से पांडवों द्वारा हजार साल पहले एक बड़े आयताकार ढाले पर विशाल पत्थर की पटियों से बनाया गया था।

Read moreकेदारनाथ मंदिर के दर्शन और यात्रा की पूरी जानकारी – Kedarnath Temple Information In Hindi

चार धाम यात्रा करने की जानकारी - Char Dham In Hindi

चार धाम यात्रा करने की जानकारी – Bharat Ke Char Dham Yatra Information In Hindi

Char Dham In Hindi, चार धाम यात्रा हिन्दू धर्म के चार प्रमुख दर्शनीय स्थलों की यात्रा हैं जिसे प्रत्येक हिन्दू जीवन में एक बार जरूर करना चाहेगा। चार धाम दर्शनीय स्थल भारत के अलग अलग राज्य में स्थित हैं। बद्रीनाथ उत्तराखण्ड, पुरी उड़ीसा, रामेश्वरम तमिलनाडु और द्वारिका गुजरात राज्य में स्थित है। चार धाम यात्रा की नीव रखने का श्रेय महान दार्शनिक और सुधारक शंकराचार्य को जाता हैं जिन्होंने 8 वीं शताब्दी में चार धाम की यात्रा के लिए मार्ग प्रसस्त किया था। चार धाम भारत के चार कोनो में स्थित चार प्रमुख तीर्थ स्थल हैं। चार धाम यात्रा दर्शन में भगवान विष्णु और भगवान शिव के दर्शनीय स्थलों की यात्रा का परम सुख भक्तो को मिलता हैं।

Read moreचार धाम यात्रा करने की जानकारी – Bharat Ke Char Dham Yatra Information In Hindi

जगन्नाथ पुरी मंदिर के आश्चर्यजनक तथ्य, इतिहास, दर्शन का समय और रथयात्रा उत्सव के बारे में संपूर्ण जानकारी Jagannath Puri Temple Interesting Facts, History, Timing And Rath Yatra Festival In Hindi

जगन्नाथ पुरी मंदिर के आश्चर्यजनक तथ्य और इतिहास के बारे में संपूर्ण जानकारी Jagannath Puri Temple Interesting Facts And History In Hindi

Jagannath Puri Mandir Darshan In Hindi श्री जगन्नाथ मंदिर ओडिशा राज्य के पुरी में भारत के पूर्वी तट पर स्थित भगवान जगन्नाथ(श्री कृष्ण) को समर्पित एक महत्वपूर्ण हिंदू मंदिर है। इसके अलावा यह एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल और तीर्थस्थल है। जहां लाखों की संख्या में पर्यटक मंदिर को देखने के लिए आते हैं। जगन्नाथ शब्द का अर्थ होता है संसार या जगत के स्वामी होता है। इसी कारण इस नगर को जगन्नाथपुरी या पुरी कहा जाता है। यह मंदिर वैष्णव संप्रदाय का मंदिर है जो भगवान विष्णु के अवतार श्रीकृष्ण को समपर्पित है।  इस मंदिर को हिन्दुओं के चार धामों में से एक माना जाता है।

Read moreजगन्नाथ पुरी मंदिर के आश्चर्यजनक तथ्य और इतिहास के बारे में संपूर्ण जानकारी Jagannath Puri Temple Interesting Facts And History In Hindi

हरिद्वार में घूमने की जगह और दर्शनीय स्थल की जानकारी - Haridwar Tourist Places In Hindi

हरिद्वार में घूमने की जगह और दर्शनीय स्थल की जानकारी – Haridwar Tourist Places In Hindi

Haridwar Mein Ghumne Ki Jagah In Hindi, यदि आप हरिद्वार की यात्रा पर जाने का प्लान बना रहें हैं तो आपको हरिद्वार में घूमने की जगह कौन-कौन सी है के बारे में जरुर पता होना चाहिए हम आपको इस लेख में हरिद्वार पर्यटन की पूरी जानकरी देने जा रहें हैं। हरिद्वार उत्तराखंड राज्य की पहाड़ियों के बीच स्थित एक प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है। हरिद्वार या हरद्वार को हिंदुओं के सात पवित्रतम स्थानों (सप्त पुरी) में से एक माना जाता है। हरिद्वार का शाब्दिक अर्थ है- भगवान तक पहुंचने का रास्ता। यही कारण है कि यह शहर अपने धार्मिक महत्व के कारण अधिक लोकप्रिय है।

Read moreहरिद्वार में घूमने की जगह और दर्शनीय स्थल की जानकारी – Haridwar Tourist Places In Hindi

रामेश्वरम मंदिर के इतिहास, दर्शन पूजन और यात्रा के बारे में संपूर्ण जानकारी - All Information About Rameshwaram Temple In Hindi

रामेश्वरम मंदिर के इतिहास, दर्शन पूजन और यात्रा के बारे में संपूर्ण जानकारी – All Information About Rameshwaram Temple In Hindi

रामेश्वरम मंदिर तमिलनाडु राज्य के रामनाथपुरम जिले में स्थित है। यह मंदिर हिंदूओं का एक पवित्र मंदिर है और इसे चार धामों में से एक माना जाता है। रामेश्वरम मंदिर को रामनाथ स्वामी मंदिर (Ramanathaswamy Temple) के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर में स्थापित शिवलिंग बारह द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक माना जाता है। जिस तरह से उत्तर भारत में काशी का महत्व है, ठीक उसी तरह दक्षिण भारत में रामेश्वरम का भी महत्व है। रामेश्वरम हिंद महासागर और बंगाल की खाड़ी से चारों ओर से घिरा है एवं शंख के आकार का द्वीप है। सदियों पहले यह द्वीप भारत की मुख्य भूमि से जुड़ा हुआ था लेकिन धीरे धीरे सागर की तेज लहरों से कटकर यह अलग हो गया, जिससे यह टापू चारों तरफ से पानी से घिर गया। बाद में एक जर्मन इंजीनियर ने रामेश्वरम को जोड़ने के लिए एक पुल का निर्माण किया था।

Read moreरामेश्वरम मंदिर के इतिहास, दर्शन पूजन और यात्रा के बारे में संपूर्ण जानकारी – All Information About Rameshwaram Temple In Hindi

बद्रीनाथ की यात्रा और इतिहास - Badrinath Yatra And Temple Details In Hindi

बद्रीनाथ की यात्रा और इतिहास – Badrinath Yatra And Temple Details In Hindi

Badrinath In Hindi, चार धामों में से एक बद्रीनाथ प्रकृति के बेहद करीब है। चारों ओर पहाड़ और यहां होने वाली बर्फबारी लोगों का मन मोह लेती है। लेकिन एक मशहूर पर्यटन स्थल होने से ज्यादा अब बद्रीनाथ धाम लोगों की गहरी आस्था का केंद्र बन गया है। बद्रीनाथ के इस मंदिर में भक्ति में डूबे लोग भगवान विष्णु का आर्शीवाद लेने पहुंचते हैं। बता दें कि यह मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित एक हिंदू मंदिर है। यह मंदिर उत्तराखंड के बद्रीनाथ शहर के पास अलकनंदा नदी के किनारे स्थित है।

Read moreबद्रीनाथ की यात्रा और इतिहास – Badrinath Yatra And Temple Details In Hindi

अमरनाथ यात्रा से जुड़ी जानकारी - Information About Amarnath Yatra In Hindi

अमरनाथ यात्रा से जुड़ी जानकारी – Information About Amarnath Yatra In Hindi

हिंदू मान्यता के अनुसार अमरनाथ यात्रा को सबसे कठिन यात्रा माना जाता है। कहा जाता है जिसने अमरनाथ की यात्रा कर ली, उसका जीवन सफल हो गया। जम्मू कश्मीर में स्थित अमरनाथ गुफा दुनियाभर में स्थित भगवान शिव के प्रमुख तीर्थस्थलों में से एक है। इसकी मान्यता इतनी है कि लाखों लोग हर साल चुनौतियों का सामना करते हुए भी इस यात्रा को पूरी करते हैं। हर साल जुलाई में 48 दिन की ये यात्रा शुरू हो जाती है। यहां का मुख्य आकर्षण का केंद्र है अमरनाथ की गुफा। अमरनाथ की गुफा श्रीनगर से 141 किमी दूर 3888 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। गुफा की लंबाई 19 मीटर और चौड़ाई 16 मीटर है। सालभर ये गुफा घनघोर छाई बर्फ के कारण ढंकी रहती है। गर्मियों में जब यह बर्फ पिघलने लगती है, तब इसे कुछ समय के लिए श्रद्धालुओं के लिए खोला जाता है। वैसे अमरनाथ को तीर्थों का तीर्थ भी कहा जाता है, क्योंकि यहीं पर भगवान शिव ने अपनी दैवीय पत्नी पार्वती को जीवन और अनंत काल का रहस्य बताया था।

Read moreअमरनाथ यात्रा से जुड़ी जानकारी – Information About Amarnath Yatra In Hindi

केदारनाथ का इतिहास, जाने से पहले जरूर जान लें ये बातें - Kedarnath In Hindi

केदारनाथ यात्रा के बारे में जानकारी – Kedarnath Ki Yatra In Hindi

Kedarnath In Hindi, केदारानाथ मंदिर चार धामों में से एक है उत्तराखंड के हिमालय पर्वत की गोद में बसे केदारानाथ मंदिर की बहुत मान्यता है। केदारनाथ माउंटेन रेंज के बीच स्थित एक प्रमुख तीर्थस्थल है, जहां भगवान शिव की ज्योर्तिलिंग स्थापित है। 3584 मीटर की ऊंचाई पर स्थित केदारानाथ मंदिर का ये ज्योर्तिलिंग सभी 12 ज्योर्तिलिंगों में सबसे महत्वपूर्ण है। केदारानाथ मंदिर की खास बात है कि यह मंदिर अप्रैल से नवंबर महीने के बीच ही दर्शन के लिए खुलता है। सालभर लोग केदारानाथ मंदिर में आने के लिए इंतजार करते हैं। यहां की प्रतिकूल वायु के कारण सर्दी के दिनों में केदारघाटी बर्फ से पूरी तरह ढंक जाती है। खास बात यह है कि इसके बाद इसके खुलने और बंद होने का मुहूर्त भी निकाला जाता है, लेकिन फिर भी ये सामान्यतौर पर नवंबर महीने की 15 तारीख से पहले बंद हो जाता है और 6 महीने बाद अप्रैल में फिर से खुलता है। इस स्थिति में केदारानाथ मंदिर की पंचमुखी प्रतिमा को उखीमठ में लाया जाता है, जहां इसकी पूजा अर्चना रावलजी करते हैं। कहा जाता है कि जो बद्रीनाथ गया और केदारनाथ के दर्शन नहीं किए, उसकी यात्रा अधूरी मानी जाती है।

Read moreकेदारनाथ यात्रा के बारे में जानकारी – Kedarnath Ki Yatra In Hindi