कालीबंगा संग्रहालय घूमने की जानकारी -Kalibangan Museum In Hindi

कालीबंगा संग्रहालय घूमने की जानकारी- Kalibangan Museum Information In Hindi

Kalibangan Museum In Hindi, कालीबंगा एक ऐतिहासिक स्थल है जो राजस्थान राज्य के हनुमानगढ़ जिले में स्थित है। आपको बता दें कि यह स्थल विश्व मानचित्र पर अंकित है जो कि राजस्थान के लिए गौरव कि बात है। कालीबंगा में वर्ष 1995 में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने कालीबंगा संग्रहालय की स्थापना की थी, जो आज एक पर्यटन स्थल के रूप में प्रसिद्ध हो गया है। इस संग्रहालय की सबसे अच्छी बात यह है कि यहां रखी प्राचीन वस्तुओं को देखने के लिए भारतीय पर्यटकों के साथ-साथ विदेशी पर्यटक भी काफी रूचि दिखाते हैं। कालीबंगा संग्रहालय में स्थित गैलरियों में रखा हुआ पुरावशेष हजारों सालों पहले सरस्वती नदी के किनारे बसे सिंधु घाटी सभ्यता के इतिहास के बारे में बताता है। यहां पर खुदाई के दौरान मिले ज्यादातर सामन को इस संग्रहालय में पर्याप्त जगह नहीं होने की वजह से दिल्ली भिजवा दिया गया था।

Read moreकालीबंगा संग्रहालय घूमने की जानकारी- Kalibangan Museum Information In Hindi

जाहरवीर गोगा जी मंदिर के दर्शन और इसके पर्यटन स्थल की पूरी जानकारी - Jahar Veer Gogaji Temple In Hindi

जाहरवीर गोगा जी मंदिर के दर्शन और इसके पर्यटन स्थल की पूरी जानकारी – Jahar Veer Gogaji Temple Jhariya Information In Hindi

Jahar Veer Gogaji Temple In Hindi, गोगाजी का मंदिर राजस्थान के लोकप्रिय मंदिरों में से एक है जो हनुमानगढ़ में गोगामेड़ी शहर में स्थित है। आपको बता दें कि यह मंदिर गोगाजी महाराज को समर्पित है जिन्हें जाहरवीर गोगाजी के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर की सबसे खास बात यह है कि इस मंदिर की यात्रा सभी धर्मों के लोग करते हैं। हर साल भादव शुक्लपक्ष की नवमी के मौके पर यहां पर एक मेले का आयोजन भी किया जाता है जिसे ‘गोगाजी मेला’ के नाम से जाना जाता है।

Read moreजाहरवीर गोगा जी मंदिर के दर्शन और इसके पर्यटन स्थल की पूरी जानकारी – Jahar Veer Gogaji Temple Jhariya Information In Hindi

हनुमानगढ़ के प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकरी – Hanumangarh Tourism In Hindi

हनुमानगढ़ के प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकरी – Best Tourist Attractions In Hanumangarh Tourism In Hindi

Hanumangarh Tourism In Hindi, हनुमानगढ़ भारत के राजस्थान राज्य का एक प्रमुख कस्वा है जिसकों पहले भटनेर के रूप में जाना जाता था। बीकानेर के राजा द्वारा कब्जा करने से पहले इस जगह पर भाटी राजपूत का शासन था। 1805 में बीकानेर के राजा सूरत सिंह ने राजपूतों द्वारा बनाये गए भटनेर के प्राचीन किले पर जीत हासिल कर ली थी, जिसके बाद इसे हनुमानगढ़ के नाम से जाना जाता है। बता दें कि जिस दिन बीकानेर के राजा ने विजय हासिल की थी उस दिन मंगलवार था। इसलिए यहाँ स्थित हनुमान जी की एक मूर्ति के नाम पर इसका नाम हनुमानगढ़ रखा।

Read moreहनुमानगढ़ के प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकरी – Best Tourist Attractions In Hanumangarh Tourism In Hindi